मध्य प्रदेश मौसम: आसमान से बरसी आफत, तेज बारिश और ओलावृष्टि से किसानों की फसलों को नुकसान, चिंतित किसान

मौसम समाचार मध्यप्रदेश: मध्यप्रदेश में किसानों के लिए आसमान से बारिश नहीं बल्कि आफत बरसी है। मध्यप्रदेश में हुई बारिश और ओलावृष्टि ने किसानों की जिंदगी परेशानी में डाल दी है। प्रदेश में हुई बारिश और ओलावृष्टि के कारण किसानों की सभी प्रकार की फसलें नष्ट हो गई है। फसल तैयार होने के बाद नष्ट हो जाने से किसानों की चिंता बढ़ गई है।

मौसम समाचार मध्यप्रदेश


मध्य प्रदेश मौसम: राजस्थान और मध्य प्रदेश बॉर्डर पर बने चक्रवात के कारण राजस्थान और मध्य प्रदेश के कई इलाकों में पिछले 3 दिनों से तेज बारिश और ओले गिरे हैं। मध्यप्रदेश में बारिश का सबसे अधिक असर मंदसौर ,नीमच रतलाम जिले में देखने को मिला है। प्रदेश के मंदसौर और नीमच जिले में इतने ओले गिरे की सड़कों पर सफेद चादर बिछ गई। मौसम विभाग ने कहा है कि अब बारिश का मौसम खत्म होते ही गर्मी का असर बढ़ जाएगा। प्रदेश में तेज हवा के साथ बारिश और ओलावृष्टि ने तबाही मचा दी है। बिन मौसम हुई इस बरसात में गर्मी के दिनों में बारिश के मौसम का अनुभव करा दिया। प्रदेश के जिन जिन इलाकों में तेज बारिश और ओले गिरे वहां पर किसानों की सभी प्रकार की फसलें बर्बाद होने की खबर मिली है।

अफीम की फसल में हुआ सबसे अधिक नुकसान 

मौसम समाचार मध्यप्रदेश: मध्यप्रदेश के मंदसौर नीमच रतलाम जिले में किसान अफीम की खेती करते हैं लेकिन ओलावृष्टि के कारण सभी किसानों की फसल बर्बाद हो गई है। कुछ इलाकों में तो इतने बड़े ओले गिरे की अफीम फसल के डोडे फट गए और कुछ स्थानों पर अफीम खेत में सो गई। इसके अलावा किसानों की गेहूं, सरसों, इसबगोल, मैथी जैसी अन्य फसलें भी बर्बाद हुई है। अफीम किसानों ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में अफीम की फसल से अफीम निकालने का कार्य किया जा रहा है और इस बीच बारिश होने से किसानों को काफी नुकसान झेलना पड़ेगा। कुछ किसानों की तो पूरी अफीम फसल नष्ट हो गई है। अब किसानों की औसत कम होने की आशंका जताई जा रही है।

मंदसौर जिले में कलेक्टर ने दिए सर्वे के निर्देश

मौसम खबर मध्य प्रदेश: फसल बर्बादी के बाद मंदसौर कलेक्टर गौतम सिंह ने जल्द से जल्द किसानों की फसलों में सर्वे करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर गौतम सिंह ने मंदसौर एसडीएम और तहसीलदार को नष्ट हुई फसलों का सर्वे करने के निर्देश दिए हैं। फसलों का सर्वे करने के लिए राजस्व विभाग की टीमों का गठन किया गया है। राजस्व विभाग की टीम जल्द ही सर्वे शुरू कर देगी। मंदसौर जिले में सबसे अधिक अफीम की खेती की जाती है जिससे नुकसान हुए किसानों को प्रशासन से मुआवजा मिलने की उम्मीद है। साथ ही मौसम विभाग ने कहा है कि प्रदेश में गर्मी बढ़ने लगेगी और दिन में गर्म हवाएं चलने लगेगी। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts

मध्यप्रदेश न्यूज़: गुराडिया देदा में हुई रहस्यमय मौत, 2 फिट पानी के टैंक में गिरकर हुई उत्तरप्रदेश के 19 साल के युवक की मौत
मध्य प्रदेश न्यूज़: मंदसौर में एक ही दिन में मिली दो लाशें, एक गुमशुदा युवती तेलिया तालाब और दूसरे व्यक्ति की शिवना नदी में मिली लाश
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में एक साथ तीन लड़कियां तालाब में डूबी, मरने वाली में दो सगी बहनों और एक अन्य लड़की शामिल है
मध्यप्रदेश न्यूज़: बलि देने तलवार निकाली, सामने बैठे व्यक्ति को लगी; मौत, मन्नत पूरी होने पर आगर मालवा से आया था परिवार
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में गैस सिलेंडर हुआ ब्लास्ट, पूरा घर जलकर हुआ राख, 1 लाख 20 हजार रुपए की नकदी भी जली