मंदसौर: नई आबादी थाने में बयान देने गए पीड़ित के साथ पुलिस के साथ की मारपीट, परिवार एसपी कार्यालय पहुंचा

थाने में बयान देने गए पीड़ित के साथ एसआई ने की मारपीट 2022

पीड़ित के साथ पुलिस ने की मारपीट


मंदसौर क्षेत्र में नई आबादी पुलिस द्वारा थाने में बयान देने गए पीड़ित के साथ मारपीट करने की खबर सामने आई है। पीड़ित जब नई आबादी थाना में बयान देने गया था पुलिस अधिकारी ने उसके साथ मारपीट की जिसके बाद परिवार ने पुलिस अधिकारी पर आरोप लगाया और पीड़ित अपने परिवार के साथ एसपी कार्यालय पहुंच गया। दरअसल मामला यह है कि मंदसौर जिले के नई आबादी थाना क्षेत्र के गांव निपानिया में वर्ष 2021 में नंदलाल की भैंस को एक व्यक्ति ने टक्कर मार दी थी जिसकी शिकायत दर्ज करवाने के लिए नंदलाल नया वादी पुलिस थाना में गया था लेकिन पुलिस द्वारा उसकी सुनवाई नहीं की गई। पुलिस द्वारा सुनवाई नहीं की गई और नंदलाल ने इसकी शिकायत सीएम हेल्पलाइन पर कर दी। जब हेल्पलाइन से थाने में पुलिस पर फोन गया तो पुलिस में नंदलाल को बयान देने के लिए थाने बुलाया। 

नंदलाल थाने गया तो एसपी ने उसके साथ मारपीट की

पुलिस थाने से जब नंदलाल को बयान देने के लिए कॉल आया तो नंदलाल अपने भाई के साथ बयान देने के लिए नई आबादी थाना पहुंचा। जब नंदलाल पुलिस थाने पहुंचा तो एसपी संजय प्रताप सिंह द्वारा उसके साथ मारपीट की गई। पुलिस अधिकारी ने नंदलाल और उसके भाई दोनों के साथ मारपीट की। इसके बाद नंदलाल अपने परिवार के साथ पुलिस अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग को लेकर एसपी कार्यालय पहुंच गया लेकिन कई दिनों तक पुलिस अधिकारी पर कार्यवाही नहीं की गई तो नंदलाल अपने परिवार सहित गांधी चौराहे पर धरना देने बैठ गए। इसके बाद मौके पर पुलिस अधिकारी पुष्पा चौहान पहुंची और नंदलाल के परिवार को आश्वासन दिया कि जो भी दोषी होगा उस पर कार्यवाही की जाएगी। 

नई आबादी थाना एस आई बोले: मैंने कोई मारपीट नहीं की, नंदलाल ने खुद अपना सिर दीवाल से भड़का

नंदलाल ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि जब वह थाने में बयान देने पहुंचा तो एसपी संजय प्रताप सिंह द्वारा उनके साथ मारपीट की गई जिससे नंदलाल के सिर पर चोट आई है। पुलिस ने नंदलाल के भाई के साथ भी मारपीट की है। इसके बाद नंदलाल परिवार के साथ अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग को लेकर एसपी कार्यालय पहुंचा लेकिन जब कार्यवाही नहीं की गई तो नंदलाल के परिवार को मजबूर होकर धरने पर बैठना पड़ा। मामले के बाद नई आबादी थाना एस आई संजय प्रताप सिंह ने बताया कि उनके द्वारा किसी भी प्रकार की मारपीट नहीं की गई है बल्कि नंदलाल ने खुद के सिर को दीवाल से टकराया जिससे उसको चोट पहुंची है। नंदलाल बिना वजह के पुलिस पर इल्जाम लगा रहा है। जिस समय नंदलाल की भैंस का एक्सीडेंट हुआ था उस समय मैं नई आबादी थाने में पदस्थ नहीं था। पुलिस मामले की जांच कर रही है और आरोपी पर उचित कार्यवाही की जाएगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts

मध्यप्रदेश न्यूज़: गुराडिया देदा में हुई रहस्यमय मौत, 2 फिट पानी के टैंक में गिरकर हुई उत्तरप्रदेश के 19 साल के युवक की मौत
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में एक साथ तीन लड़कियां तालाब में डूबी, मरने वाली में दो सगी बहनों और एक अन्य लड़की शामिल है
मध्यप्रदेश न्यूज़: बलि देने तलवार निकाली, सामने बैठे व्यक्ति को लगी; मौत, मन्नत पूरी होने पर आगर मालवा से आया था परिवार
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में गैस सिलेंडर हुआ ब्लास्ट, पूरा घर जलकर हुआ राख, 1 लाख 20 हजार रुपए की नकदी भी जली
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में साइंस की छात्रा ने की आत्महत्या, Physics में सप्लीमेंट्री आने के बाद छात्रा डिप्रेशन में थी