कौन बनेगा अगला राष्ट्रपति, राष्ट्रपति बनने की रेस में 4 चेहरे सबसे आगे, क्या इस बार भी महिला बनेगी राष्ट्रपति

कौन बनेगा भारत का अगला राष्ट्रपति 2022



आने वाले 25 जुलाई 2022 को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल समाप्त होने जा रहा है इसके बाद सोशल मीडिया पर तेजी से अगले राष्ट्रपति बनने के लिए चार चेहरे सामने आ रहे हैं। आज से 4 महीने बाद देश में राष्ट्रपति बनने के लिए चुनाव प्रक्रिया शुरू हो जाएंगे। इसको लेकर सभी राजनीतिक पार्टियों और मुख्य बीजेपी और आरएसएस के बीच राष्ट्रपति पद के लिए सामने आ रहे नामों को लेकर मंथन शुरू हो चुका है। फिलहाल राष्ट्रपति पद के लिए सबसे आगे आने वाले चेहरे स्पष्ट नहीं हुए यह देश में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर के विधानसभा चुनाव के बाद चेहरे सामने आएंगे और इन पर मंथन शुरू हो जाएगा। फिलहाल राजनीतिक दल बीजेपी और आरएसएस के बीच मुख्य चार चेहरे जो राष्ट्रपति दल के लिए सामने आ रहे हैं उन पर मंथन चल रहा है। 

वर्तमान में राष्ट्रपति पद के लिए चार चेहरे कौन-कौन से हैं

जो चार चेहरे अगले राष्ट्रपति बनने के लिए चर्चा में चल रहे हैं उनमें से सर्वप्रथम उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का नाम सामने आ रहा है। फिलहाल के आंकड़े देखे जाए तो आनंदीबेन पटेल की अधिक संभावना बताई जा रही है। इसके बाद केरल के गवर्नर आरिफ मोहम्मद खान का नाम सामने आ रहा है। तीसरे नंबर पर कर्नाटक के राज्यपाल थावरचंद गहलोत और चौथे नंबर पर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू शामिल है। फिलहाल इन 4 चेहरों के बीच चर्चा चल रही है लेकिन इनमें से कौन बाजी मारेगा यह अभी निर्धारित नहीं हो पाया है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने चौकानेवाले नियमों को लेकर काफी प्रसिद्ध है इसलिए संभावना भी जताई जा रही है कि आने वाले समय में पीएम नरेंद्र मोदी राष्ट्रपति पद के लिए नया नाम सामने लाकर सबको चौका भी सकते हैं। यह जनता को अब चुनाव सामने आने के बाद ही पता चलेगा। 

इन चार नामों का चर्चा में रहने का क्या कारण है

फिलहाल राजनीतिक दलों और सोशल मीडिया पर राष्ट्रपति पद के लिए 4 नाम ही चर्चाओं में चल रहे हैं जिनमें से आनंदीबेन पटेल, आरिफ मोहम्मद खान, थावर चंद्र गहलोत और वेकैंया नायडू शामिल हैं। चलिए जानते हैं इन चारों में कौन कितना खास है।

आनंदीबेन पटेल

आनंदीबेन पटेल सबसे अधिक जनसंख्या वाले उत्तर प्रदेश की राज्यपाल है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सबसे करीबी भी बताई जा रही है। आनंदीबेन पटेल एक बार गुजरात की मुख्यमंत्री भी रह चुकी है। आनंदीबेन पटेल का नाम राष्ट्रपति के लिए सामने इसलिए चर्चा में चल रहा है क्योंकि सर्वप्रथम देश के राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम को बनाकर देश को नया संदेश दिया गया था और उसके बाद दलित समुदाय के रामनाथ कोविंद को बनाकर नया संदेश दिया गया इसमें अब बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महिला को राष्ट्रपति बना कर दोबारा देश को नया संदेश देंगे। आनंदीबेन पटेल के लिए बस यह समस्या सामने आ रही है कि उनकी उम्र 80 वर्ष से अधिक है और ऐसे में उनके नाम सहमति बनाना ठीक नहीं होगा।

आरिफ मोहम्मद खान

आरिफ मोहम्मद खान केरल के राज्यपाल है और उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर के रहने वाले हैं। आरिफ मोहम्मद खान चर्चाओं में तब आए थे जब भी यह राजीव गांधी सरकार में थे और शाहबानो केस पर इन्होंने केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद चर्चाओं में आ गए थे। इसके बाद में चर्चित होने वाले हर मामले में भाजपा की तरफ से लड़ाई करते रहे। भाजपा भी इन्हें प्रगतिशील विचारधारा मानने लगी। उनका चेहरा राष्ट्रपति के इस बात के लिए उचित हो रहा है क्योंकि भाजपा और आर एस एस इस बार पर मुस्लिम को राष्ट्रपति बना कर पूरे देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया को यह संदेश देना चाहती है कि मुस्लिम विरोधी नहीं है बल्कि तुष्टीकरण विरोधी है।

वेंकैया नायडू

 वेंकैया नायडू वर्तमान में देश के उपराष्ट्रपति है जो आंध्र प्रदेश के रहने वाले हैं। यह काफी लंबे समय से भाजपा से जुड़े हुए हैं। पंडित अटल बिहारी वाजपेई की सरकार में यह केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री भी रह चुके हैं। मोदी सरकार में भी इन्होंने काफी कमान संभाली और देश में विकास किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी होने के कारण इनका चेहरा भी राष्ट्रपति के लिए सामने आ सकता है और भाजपा सरकार इन्हें राष्ट्रपति बनाकर दक्षिण भारत में अपनी पकड़ मजबूत करने का संदेश दे सकती है।

राष्ट्रपति को दोबारा लाने की परंपरा खत्म हो चुकी है

जानकारी देते हुए हम आपको बता दें कि अब भारत देश में भी एक ही व्यक्ति को दो बार राष्ट्रपति बनाने की परंपरा खत्म कर दी गई है। ऐसी स्थिति में अब रामनाथ कोविंद को दोबारा राष्ट्रपति नहीं बनाया जा सकता है इसलिए पीएम नरेंद्र मोदी और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के रिश्ते को ऐसा लग रहा है कि पधानमंत्री नरेंद्र मोदी नायडू को ही राष्ट्रपति के लिए खड़ा कर सकते हैं। राष्ट्रपति बनने के लिए यह नाम सिर्फ राजनीतिक कार्यों के अनुसार बताए गए हैं लेकिन देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्य हमेशा चौंकाने वाले होते हैं इसलिए यह हमेशा नया चेहरा सामने लाते हैं। इस बात पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के सामने नया चेहरा लाकर सभी को चौंका सकते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts

मध्यप्रदेश न्यूज़: गुराडिया देदा में हुई रहस्यमय मौत, 2 फिट पानी के टैंक में गिरकर हुई उत्तरप्रदेश के 19 साल के युवक की मौत
मध्य प्रदेश न्यूज़: मंदसौर में एक ही दिन में मिली दो लाशें, एक गुमशुदा युवती तेलिया तालाब और दूसरे व्यक्ति की शिवना नदी में मिली लाश
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में एक साथ तीन लड़कियां तालाब में डूबी, मरने वाली में दो सगी बहनों और एक अन्य लड़की शामिल है
मध्यप्रदेश न्यूज़: बलि देने तलवार निकाली, सामने बैठे व्यक्ति को लगी; मौत, मन्नत पूरी होने पर आगर मालवा से आया था परिवार
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में गैस सिलेंडर हुआ ब्लास्ट, पूरा घर जलकर हुआ राख, 1 लाख 20 हजार रुपए की नकदी भी जली