दिनदहाड़े व्यापारी पर तानी बंदूक और 3 लाख रुपए लूट ले गया, सूचना मिलते ही सभी तरफ फैली सनसनी

दिनदहाड़े लूट की कहानी 2022

 दिनदहाड़े व्यापारी पर तानी बंदूक और 3 लाख रुपए लूट ले गया, सूचना मिलते ही सभी तरफ फैली सनसनी





आलोट नगर के सराफा बाजार के रानीपुरा में दिनदहाड़े दो बदमाशों ने एक मंडी व्यापारी के गोदाम में घुसकर तीन लाख रुपए चुरा लिया और मौके से फरार हो गए। जब सभी को घटना की खबर मिली तो पूरे मोहल्ले में सनसनी फैल गई। पुलिस को घटना की सूचना मिलते ही वह मौके पर पहुंची और वारदात की जानकारी लेकर तुरंत सभी जगह नाकाबंदी कर लुटेरों की जांच करना शुरू कर दी हालांकि पुलिस ने लुटेरों को रात तक ढूंढा लेकिन उनका पता नहीं चल पाया। पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया है और सबूत के आधार पर उनकी तलाश कर रही है। व्यापारी ने बताया कि दोनों लुटेरे अचानक गोदाम के अंदर आए और मारने की धमकी देकर लगभग ₹300000 लिए और मौके से फरार हो गए। भागते समय लुटेरों ने दरवाजा भी बंद कर दिया था।




दोनों लुटेरों में से एक ने सिर पर बंदूक तान दी थी इसलिए चिल्ला नहीं पाए




जानकारी में पता चला है कि जैसे ही दोनों लुटेरे व्यापारी के गोदाम में घुसे तो एक लुटेरे ने सिर पर बंदूक तान दी जिसके डर से किसी ने भी आवाज नहीं निकाली और दोनों लुटेरे आसानी से पैसे चुरा ले गए। घटना करीब 2:30 बजे की है जब मंडी व्यापारी लोकेश पोरवाल रानीपुरा स्थित अपने ही घर पर बने कार्यालय में बैठे हुए थे। इस दौरान दो बदमाश लोकेश के कार्यालय में घुसे और उनसे कुछ बातचीत करने लगे। कुछ देर बाद एक बदमाश ने लोकेश पोरवाल के हाथ पकड़ लिया और सिर पर बंदूक तान दी। इसके बाद एक लुटेरे ने पैसे निकाले और दोनों दरवाजा बंद करके भाग निकले। इसके बाद लोकेश पोरवाल ने फोन लगाकर अपने भाई दीपक पोरवाल को कार्यालय पर बुलाया। घटना की खबर सुनकर आसपास के लोग और दुकान वाले घटनास्थल पर पहुंचे। अधिकारी और पुलिस भी मौके पर पहुंचे और पुलिस ने लुटेरों को पकड़ने के लिए शहर के 25 सीसीटीवी कैमरे चेक किए लेकिन लुटेरों का कोई सुराग नहीं मिल पाया।



एक किसान को भुगतान करने के बाद आए थे लुटेरे




लोकेश पोरवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि वह मंडी में व्यापारी है और धान खरीद कर व्यापार करते हैं। 5 किसानों से सोयाबीन खरीदने के बाद भुगतान करने के लिए अपने कार्यालय पर आए हुए थे। इसके बाद कार्यालय पर सद्दाम नामक किसान आया और व्यापारी ने उसे पैसे भुगतान किए। इसके बाद दोनों बदमाश आए जिनमें से एक ने काले रंग का शर्ट और दूसरे ने काले रंग का जैकेट पहन रखा था। उन्होंने कार्यालय में आकर पूछा कि काकानी सेठ के पैसे यही मिलते हैं क्या तो व्यापारी ने मना कर दिया। इसके बाद काले रंग का शर्ट पहने व्यक्ति ने व्यापारी के सिर पर बंदूक तान दी और जान से मारने की धमकी देने लगा इतने में दूसरे लुटेरे ने गले से पैसे निकाले और गेट लगाकर दोनों भाग निकले। पुलिस द्वारा बताया गया है कि लुटेरों का अभी तक पता नहीं चला है उनकी जांच की जा रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ