मध्यप्रदेश में चुनाव पर लगी रोक। राज्यपाल के पास जाएगा प्रस्ताव यह शिवराज केबिनेट का फैसला

 मध्यप्रदेश में चुनाव पर लगी रोक। राज्यपाल के पास जाएगा प्रस्ताव यह शिवराज केबिनेट का फैसला






मध्यप्रदेश पंचायत चुनाव अपडेट: मध्यप्रदेश में पंचायत चुनाव पर लगी रोक।राज्यपाल के पास प्रस्ताव भेजने का शिवराज केबिनेट का फैसला।इसके दौरान हंड्रेड डायल करने की दी शिवराज केबिनेट ने मंजूरी। और  करी ये योजन भी जारी।प्रदेश में 65 कन्या छात्रावास खोले जाएंगे।


मध्यप्रदेश में पंचायत चुनाव पर लगी रोक।पंचायत मंत्री महेश सिंह सिसोदिया ने पंचायत चुनाव कराने के अध्यादेश वापस लेने का प्रस्ताव पेश किया। इस पर दी केबिनेट ने मंजूरी।कैबिनेट की मंजूरी के बाद अब राज्यपाल को भेजे गए अध्यादेश को सरकार वापस लेगी।इस अध्यादेश के अनुसार ही पंचायत चुनाव कराए जा रहे थे।इसे वापस लेते ही पंचायत चुनाव पर लगी रोक।


प्रदेश के पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने कहा कि इस अध्यादेश के आधार पर पंचायत चुनाव हो रहे थे।उस अध्यादेश को वापस लेने पर रोक के हालात बनते हैं।राज्य सरकार ओबीसी आबादी और वोटरों की भी गिनती कर रही है। इसके अलावा शिवराज कैबिनेट की बैठक में हंड्रेड डायल योजना को मंजूरी दे दी गई।ये योजना जारी रहेगी। खेलो इंडिया यूथ गेम्स के आयोजन के लिए 215 करोड़ के बजट को मंजूरी मिल गई है।प्रदेश में 65 कन्या छात्रावास खोले जाएंगे।


कोरोना को लेकर नरोत्तम मिश्रा ने कहा था 18 साल से कम उम्र के बच्चे जो भारत के भावी निर्माता हैं हम रिस्क नहीं ले सकते हैं।लेकिन कैचिंग सेंटर और ग्राउंड पर कोरोना की गाइड लाइन का पालन करते हुए चलाए जाएंगे।विगत 24 घंटे में कोरोना के 32 नए प्रकरण आए हैं।अभी मध्यप्रदेश में कोरोना के 209 एक्टिव केस है, इसको लेके काल 62 हजार 900 सेम्पल जाच के लिए जाएंगे।


सीएम से चुनाव टालने पर चर्चा

गृह मंत्री ने कहा पंचायत चुनाव का फैसला  शिवराज सिंह के कहने पर लिया जाएगा। कोरोना के बढ़ते मामले को ध्यान में रखकर पंचायत चुनाव पर फैसला लिया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ