Mp में पंचायत चुनाव का ऐलान, तीन चरण में होंगे चुनाव, मंदसौर का नंबर तीसरे चरण में


मध्यप्रदेश में पंचायत चुनाव का ऐलान, तीन चरणों में होंगे चुनाव 2021



मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव का ऐलान हो गया है। मध्य प्रदेश में चुनाव तीन चरणों में होंगे। पंचायत चुनाव की घोषणा राज्य निर्वाचन आयुक्त बसंत प्रताप सिंह ने की है। मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव में तीन चरण होंगे जिसमें पहला चरण 6 जनवरी, दूसरा चरण 28 जनवरी और तीसरा चरण 16 फरवरी को मतदान किया जाएगा। राज्य निर्वाचन आयुक्त बसंत प्रताप सिंह ने चुनाव परिणाम आने तक प्रदेश में आचार संहिता लागू करने की भी घोषणा कर दी है। चुनाव परिणाम आने तक प्रदेश के सभी ग्रामीण इलाकों में आचार संहिता लागू रहेगी। पहले चरण में प्रदेश के 9 जिलों में और दूसरे चरण में 7 जिलों में और तीसरे चरण में 36 जिलों में मतदान कराया जाएगा। मतदाता सुबह 7:00 बजे से दोपहर 3:00 बजे तक कभी भी मतदान कर सकते हैं और 13 दिसंबर से नामांकन पत्र भी मिलने लगेगे।




चुनाव राजनीतिक दलों के आधार पर नहीं हो रहे हैं




चुनाव आयोग ने कहा है कि पंचायत चुनाव किसी दलीय पार्टी के आधार पर नहीं किए जा रहे हैं। इसमें आप भाजपा या कांग्रेस का अधिकृत चुनाव चिन्ह उपयोग नहीं कर सकते हैं बल्कि आपको निर्वाचन आयोग अलग से चुनाव चिन्ह उपलब्ध कराएगा। सभी राजनीतिक दलों को आचार संहिता के दायरे में रहना होगा। सरपंचों को निर्वाचन कार्यालय में जाकर फार्म भरने होंगे जबकि जिला पंचायत के लिए ऑनलाइन आवेदन किए जाएंगे। मतदान ईवीएम मशीन से किए जाएंगे। अलग ही ग्रामीण इलाकों में मतपत्र के चुनाव किए जाएंगे। चुनाव का मेगा शो आखिरी चरण में होगा। प्रदेश के लगभग 22600 गांव में चुनाव किए जाएंगे जिनके लिए 71398 पोलिंग बूथ बनाए जाएंगे।




उम्मीदवारों को कितनी राशि जमा करनी पड़ेगी




जिला पंचायत सदस्य के लिए नामांकन के साथ ₹8000 राशि प्रदान करनी पड़ेगी। जनपद सदस्य के लिए 4 हजार और ग्राम पंचायत सरपंच के लिए दो हजार और पंच के लिए ₹400 राशि जमा करनी होगी। इसमें उन महिलाओं को निर्धारित राशि से आधी राशि ही देनी पड़ेगी जो अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और ओबीसी कास्ट में आती है। नामांकन पत्र दाखिल करते समय अपने साथ अधिकतम दो लोगों को ले जा सकते हैं। अधिकारी कार्यालय जातें समय दो गाड़ियों का ही उपयोग कर सकते हैं।



ऐसा रहेगा कार्यक्रम



प्रथम चरण



1- 13 दिसंबर 2021 को नामांकन पत्र जारी कर दिए जाएंगे।



2- 20 दिसंबर को नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की अंतिम तिथि है।



3- 21 दिसंबर से पत्रों की जांच की जाएगी।


4- 23 दिसंबर तक नाम वापस लिए जा सकेंगे।


5- 23 दिसंबर को चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की सूची बनाई जाएगी और उन्हें चुनाव चिन्ह आवंटित किए जाएंगे।


6- 6 जनवरी को पहले चरण का मतदान किया जाएगा।


7- प्रथम चरण में मध्य प्रदेश के 7 जिलों में चुनाव करवाया जाएगा।


द्वितीय चरण



1- द्वितीय चरण के लिए भी 13 दिसंबर को नामांकन पत्र जारी कर दिए जाएंगे।



2- नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने के लिए 20 दिसंबर आखिरी तिथि रहेगी।


3- पत्रों की जांच 21 दिसंबर को की जाएगी।


4- द्वितीय चरण के लिए जिले में चुनाव लड़ने वाले हजारों की सूची तैयार की जाएगी और चुनाव चिन्ह आवंटित किए जाएंगे।


5- 28 जनवरी को द्वितीय चरण के मतदान किए जाएंगे।


6- द्वितीय चरण में प्रदेश के 9 जिलों में मतदान करवाए जाएंगे।



तृतीयचरण



1- तृतीय चरण के चुनाव के लिए 30 दिसंबर को नामांकन पत्र प्राप्त करने की अंतिम तिथि रहेगी।



2- नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की अंतिम तिथि 6 जनवरी रहेगी।



3- 7 जनवरी को पत्रों की जांच की जाएगी।



4- 10 जनवरी को नाम वापस लिए जाएंगे।



5- 10 जनवरी को उम्मीदवारों की सूची और उन्हें चुनाव चिन्ह आवंटित किए जाएंगे।


6- मतदान 16 फरवरी को होगा जिसमें प्रदेश के 36 जिलों में चुनाव करवाए जाएंगे। मंदसौर जिले में चुनाव के तीसरे चरण में किया जाएगा।



शिकायत के लिए कंट्रोल रूम बनाए जाएंगे



राज्य चुनाव निर्वाचन आयोग ने कहा है कि मतदान से संबंधित सभी शिकायत प्राप्त करने के लिए जिले में अलग-अलग स्तर पर कंट्रोल रूम बनाए जाएंगे। अगर कोई चुनाव से संबंधित शिकायत करना चाहता है तो उसे 0755-2551076 पर कॉल करना पड़ेगा। प्रदेश में 144 ग्राम पंचायतें ऐसी भी है जहां पर मार्च में कार्यकाल पूरा होगा और इनमें अभी चुनाव नहीं करवाया जाएगा। इन ग्राम पंचायतों में चुनाव कार्यकाल पूर्ण होने के बाद अलग से करवाया जाएगा। इस बार चुनाव में टेक्नोलॉजी भी उपयोग की गई है। पंच और सरपंच अपने नामांकन पत्र ऑनलाइन जमा कर सकेंगे। अगर कोई मतदाता सूची देखना चाहता है तो मध्य प्रदेश इलेक्शन की वेबसाइट पर जाकर आसानी से देख सकता है। महामारी को देखते हुए मतदाताओं को चुनाव स्थल पर ग्लब्स दिए जाएंगे जिन्हें पहनकर वोट करना पड़ेगा। चुनाव आयोग पूरी तरह से तैयारी कर रहा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ