मंदसौर सदर बाजार में पुलिस आम लोगों से बढ़ा रही दुर्व्यवहार, पहले बाइक उठाई, फिर बिना बात सुने मारा चाटा

युवक की बाइक उठाई और बिना समझाएं पुलिस वाले ने मार दिया चांटा 2021



मंदसौर के सदर बाजार में आम लोगों से पुलिस का दुर्गा बाहर बिगड़ता जा रहा है और ऐसे कई मामले सामने आ रहे हैं। जानकारी के अनुसार शहर कोतवाली थाने में पदस्थ एएसआई प्रेमसिंह हठीला ने एक दुकान के बाहर खड़े आम आदमी के वाहन को पहले तो अपने किसी जवान से हटवाने की कोशिश की । जब बाइक के मालिक ने यह सब देखा तो वह तेजी से दुकान के बाहर आया और बाइक से चाबी निकालने लगा। इस दौरान पुलिस वाले ने बिना कुछ सोचे समझे व्यक्ति को समझाइश भी नहीं दी और बाइक वाले युवक को थप्पड़ मार दिया। इसके बाद पुलिस वाले युवक की गाड़ी लेकर चले गए। इस दौरान वहां पर भीड़ भी जमा हो गई लेकिन पुलिस जाने के बाद सब अपना अपना काम करने लगे। 




कैमरे में कैद हुई घटना, दुकानदार ने इंटरनेट पर किए वायरल



जिस दुकान के सामने यह घटना हुई उस दुकान पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए थे जिसमें यह पूरी घटना कैद हो गई। इसके बाद दुकानदार ने इसका वीडियो निकालकर इंटरनेट पर वायरल कर दिया। वीडियो जब पुलिस वाले हठीला पर पहुंचा तो उन्हें गलती का एहसास हुआ और फिर युवक से शिकायत नहीं करने की मांग करने लगे। घटना मंगलवार की है जब दोपहर में जिले के पीपल खेड़ी गांव में रहने वाले अभय सिंह अपनी मोटरसाइकिल लेकर सदर बाजार में सामान लेने आए थे। रोजाना सदर बाजार में दुकानों के बाहर ही सभी वाहन खड़े रहते हैं। इस दौरान शहर कोतवाली थाना में पदस्थ एएसआई हटिला ने अपने साथी जवान से अभय सिंह की गाड़ी थाने ले जाने को कहा।




बिना समझाएं और बताएं पुलिस वाले ने अभयसिंह को मार दी गोली




जब पुलिस वाले युवक की गाड़ी ले जाने लगे और अभय सिंह ने देखा तो वह दुकान से दोड़कर बाहर आया। इसके बाद अभय सिंह ने अपनी गाड़ी से चाबी निकालकर उनसे पूछा कि इसे कहां ले जा रहे हो तो इस दौरान थोड़ी दूर खड़े एएसआई हठीला वहां पहुंचे और बोले बाइक की चाबी दे दो। अभय सिंह जब उसे दोबारा पूछने लगा तो एएसआई हठीला ने बिना सोचे समझे अभय सिंह को चांटा मार दिया। इसके बाद पुलिस वाले चाबी लेकर बाइक ले गए और अभय सिंह दुकान में आ गया। यह पूरी घटना दुकान के सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई और दुकानदार ने इसे इंटरनेट पर वायरल कर दिया। इसके बाद जब हटीला पर वायरल वीडियो पहुंचा दो उन्होंने अभय सिंह को समझा-बुझाकर बाइक लौटा दी और कार्यवाही कराने से मना कर दिया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ