मंदसौर से अब नहीं करना पड़ेगा मासूमों को रेफर, जिले को मिला आधुनिक पीआईसीयू, कल से हो जाएगा इलाज शुरू

 

मंदसौर जिला अस्पताल में कल से शुरू हो जाएगा पीआईसीयू में इलाज 2021




मंदसौर जिले वासियों को एक खुशखबरी और राहत भरी खबर मिली है कि जिले को अब आधुनिक पीआईसीयू मिल गया है। यह इतना जल्दी इसलिए सफल हो पाया क्योंकि विशेषज्ञ जल्द ही तीसरी लहराने की बात कह रहे हैं और यह भी बताया जा रहा है कि तीसरी लहर बच्चों पर अधिक असर करेगी। इसी चिंता के कारण प्रशासन द्वारा आगे तेजी से पीआईसीयू की मांग की गई और सरकार ने मंदसौर जिले को आधुनिक पीआईसीयू प्रदान भी कर दिया। कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने के लिए मंदसौर जिला प्रशासन तेजी से तैयारियां कर रहा है। ऐसे में मंदसौर स्वास्थ्य विभाग को आधुनिक पीआईसीयू मिलने से राहत मिल गई है। मंदसौर जिला अस्पताल में मंगलवार से ही इसकी शुरुआत हो जाएगी।




मासूमों और परिजनों को अब रेफर का दर्द नहीं सहना पड़ेगा




पहले किसी भी मासूम या किसी भी मरीज की तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर उसे दूसरे शहर में रेफर करना पड़ता था। इससे परिस्थिति जेल रहे परिजनों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता था लेकिन अब आधुनिक पीआईसीयू मिलने के बाद अब मासूमों और परिजनों को रेफर का दर्द नहीं सहना पड़ेगा। अब इसका इलाज मंदसौर में शुरू हो जाएगा। अब मासूम बच्चों और गंभीर मरीजों को मंदसौर जिला अस्पताल में ही बेहतर और गुणवत्ता पूर्वक इलाज मिल सकेगा। जिले में कोरोना की पहली दूसरी लहर और डेंगू के मिलने वाले मरीजों का इलाज अस्पताल के वयस्क पीसीयू में किया गया। इसके अलावा एसएनसीयू में भी नवजात की देखभाल की जा रही है।




कल से ही शुरू हो जाएगा जिला अस्पताल में आधुनिक पीआईसीयू




अधिकारी बता रहे हैं कि कल शाम से ही जिला अस्पताल में पीआईसीयू शुरू हो जाएगा। शासन की तरफ से 10 बेड स्वीकृत किए गए हैं हालांकि अभी तक 4 बेड ही लग पाए हैं। अधिकारियों ने कहा है कि 1 दिन में बाकी बेड भी तैयार हो जाएंगे। डाक्टर और स्टाफ ने पॉजिटिव मरीज को एंबुलेंस से उतार कर आईसीयू तक ले जाने आईसीयू तक ले जाने की पूरी प्रकिया की। इसके बाद वेंटीलेटर सहित ऑक्सीजन की प्रक्रिया पूरी की गई। पूरी प्रकिया में जिस जगह भी कमी पाई गई। वहां पर सीएमएचओ और सिविल सर्जन डॉक्टर ने समझाइश दी।पीआई सीयू में एंबूलेस का सायरन नहीं बजा तो बच्चे को दोबारा बाहर लाकर ले जाया गया।




बच्चों की सभी गंभीर बीमारियों का अब मंदसौर में ही होगा इलाज



पहले किसी भी बच्चे को गंभीर बीमारी हो जाने पर इंदौर भीलवाड़ा और उदयपुर रेफर करना पड़ता था लेकिन अब आधुनिक पीआईसीयू आने के बाद बच्चों की हर गंभीर बीमारी का इलाज मंदसौर जिला अस्पताल में संभव हो सकेगा। इसके अलावा नवनिर्मित पीआईसीयू में कोरोना और निमोनिया जैसी बड़ी बीमारियों का इलाज भी किया जाएगा। जिले को एक सौगात के रूप में आधुनिक पी आई सी प्रदान किया गया है। स्वास्थ्य स्वास्थ्य अधिकारी और डॉक्टर्स का कहना है कि मंदसौर जिला अब कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने के लिए पूरी तरीके से तैयार हो गया है। मंदसौर जिला अस्पताल में पर्याप्त संसाधन उपलब्ध हो गए हैं और सभी चालू स्थिति में भी है। सिविल सर्जन डॉ डीके शर्मा ने बताया कि आधुनिक पीआईसीयू के संचालन के लिए शासन द्वारा 8 नर्से स्वीकृत की गई है जिन्हें निर्देश दे दिए गए हैं। आने वाले 2 दिनों में पीआईसीयू से इलाज चालू हो जाएगा।




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ