यह कैसा बदला: भाई की अफीम पर चचेरे भाई ने छिड़की खरपतवार की दवा, नष्ट हो गई अफीम की फसल

 

चचेरे भाई ने भाई की अफीम पर छिड़की खरपतवार की दवा 2021




अफीम की खेती से जुड़ा एक रोचक मामला सामने आया है।  प्रदेश के लगभग सभी अफीम किसानों ने अफीम की बोवनी कर दी है। मामला अफजलपुर थाना के अंतर्गत ग्राम व पंचायत गुदियाना के अंतर्गत आने वाले झाकेडा़ गांव में दो भाइयों के बीच पारिवारिक विवाद हो गया और उसका बदला लेने के लिए अफीम की फसल पर खरपतवार की दवा छिटकने का मामला सामने आया है। दरअसल मामला यह है कि दो चचेरे भाई के बीच में पारिवारिक विवाद हो गया था। इस बात का बदला निकालने के लिए एक भाई ने दूसरे भाई के खेत में खड़ी अफीम की फसल पर खरपतवार की दवा छिड़क दी। 



खरपतवार की दवा छिड़कने के कारण अफीम की फसल पूरी तरीके से सूख गई है। 




जानकारी में बताया गया है कि खरपतवार की दवाई छिड़कने से अफीम किसान के खेत में खड़ी अफीम की फसल नष्ट हो गई। जब किसान को इसकी खबर लगी तो उसने अफजलपुर थाने में जाकर मामला दर्ज करवाया। किसान ने पुलिस को बताया कि उसकी चचेरे भाई से पारिवारिक लड़ाई चल रही थी और कुछ दिनों पहले विवाद भी हुआ था। इसी का बदला निकालने के लिए उसने खेत में खड़ी अफीम की फसल पर दवाई छिड़क दी। दवाई का असर दो दिनों में हुआ और अफीम की फसल पूरी तरीके से बर्बाद हो गई। पुलिस ने इस पर मामला दर्ज किया।




अब किसान की अफीम खेती का क्या होगा




अफजलपुर थाना पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि विवाद के बीच चचेरे भाई अरविंद भगवतीलाल पिता अंबालाल पाटीदार ने दूसरे भाई दशरथ पिता भेरूलाल पाटीदार के खेत में खड़ी अफीम फसल को खरपतवार की दवाई डालकर नष्ट कर दिया। इससे पूरे खेत में खड़ी अफीम की फसल मुरझाकर सूखने लगी। फरियादी दशरथ पिता भेरूलाल पिता रामचंद्र पाटीदार द्वारा अफजलपुर थाने में जाकर रिपोर्ट दर्ज कराई गई। पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद घटनास्थल पर पहुंचकर निरीक्षण किया। पुलिस ने पंचनामा बनाकर कार्रवाई शुरू कर दी है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ