मंदसौर: एंबुलेंस समय पर नहीं पहुंची तो सड़क किनारे त्रिपाल बनाकर करनी पड़ी महिला की डिलीवरी

 

एंबुलेंस समय पर नहीं आई तो सड़क किनारे हुई महिला की डिलीवरी 2021




मंदसौर जिले के मल्हारगढ़ तहसील के अमरपुरा गांव में एंबुलेंस समय पर नहीं पहुंचने के कारण महिला की डिलीवरी सड़क किनारे ही पाल की आड़ में करनी पड़ी। कुछ समय तक महिलाओं ने एंबुलेंस का इंतजार किया और फिर एंबुलेंस नहीं पहुंचने पर आंगनवाड़ी आशा कार्यकर्ता और दाईं मां ने महिलाओं की मदद से पाल की आड़ में महिला की डिलीवरी की ओर जन्म लेने वाले बच्चे और मां को निजी वाहन से अस्पताल ले जाया गया। जैतपुरा के लोगों ने जानकारी देते हुए बताया कि अमरपुरा निवासी गर्भवती महिला अपने पति के साथ अस्पताल जा रही थी। उन्होंने इसके लिए पहले 108 एंबुलेंस को कॉल भी कर दिया था।



काफी इंतजार करने के बाद भी एंबुलेंस समय पर नहीं पहुंची



लोगों ने बताया कि गर्भवती महिला और उसके पति ने काफी देर तक एंबुलेंस का इंतजार किया लेकिन जब एंबुलेंस नहीं पहुंची तो उन्होंने गर्भवती महिला को निजी वाहन से अस्पताल ले जाने का निर्णय लिया। परिजन निजी वाहन से गर्भवती महिला को जब मल्हारगढ़ ले जा रहे थे तो जेतपुरा गांव में हनुमान मंदिर के पास जाकर महिला को तेज दर्द होने लगा और उसे वहीं पर उतारना पड़ा। यह देख मंदिर के पुजारी आदेश बैरागी और उनकी माताजी, आशा कार्यकर्ता शांता पोरवाल, धापू भाई सोलंकी और भगत राम वैरागी ने फुर्ती दिखाते हुए तिरपाल और कपड़ों की व्यवस्था की। इसके बाद आशा कार्यकर्ता, भाई मां और अन्य महिलाओं ने सड़क किनारे ही महिला का प्रसव कराया।




महिला ने स्वस्थ बालक को जन्म दिया, एंबुलेंस पहुंची ही नहीं




जब महिलाओं ने गर्भवती महिला का सड़क पर ही प्रसन्न किया तो महिला ने एक स्वस्थ बालक को जन्म दिया। हालांकि तब तक भी परिजन एंबुलेंस का इंतजार कर रहे थे लेकिन एंबुलेंस नहीं पहुंची। इसके बाद आशा कार्यकर्ता और दाईं मां ने सतर्कता दिखाते हुए निजी वाहन से महिला और बच्चे को मल्हारगढ़ सामूहिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। महिला के पति ने बताया कि वह सुबह से ही एंबुलेंस को कॉल कर रहे थे लेकिन वह समय पर नहीं पहुंची। मामले में जिला स्वास्थ्य अधिकारी केएल राठौर ने बताया कि उन्हें इस मामले की खबर नहीं है। इतनी बार सूचना देने के बाद भी एंबुलेंस क्यों नहीं पहुंची इसका जवाब 108 एंबुलेंस प्रभारी ही दे सकते हैं। 108 एंबुलेंस प्रभारी ने बताया कि मल्हारगढ़ क्षेत्र में थाने पर एक ही एंबुलेंस है जो घटना के समय उदयपुर मरीज को लेकर गई थी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ