मंदसौर: फिर लग सकता है लॉकडाउन, कोरोना के नए वेरिएंट का डर, प्रशासन चलाएगा रोको टोको अभियान

कोरोना के नए वेरिएंट ने दस्तक दे दी है 2021



देश में फिर एक बार कोरोना के नए वेरिएंट ने सभी को डरा दिया है। पहले ही जनता ने बड़ी मशक्कत से कोरोना से जंग जीती थी लेकिन अब फिर कोरोना के नए वेरिएंट का खतरा बढ़ गया है। हालांकि इस बार मंदसौर जिले में अच्छी खबर यह है कि प्रशासन एक भी मामला सामने नहीं आया और सतर्क हो गया है। आने वाले समय में महामारी नहीं पहले इसलिए प्रशासन ने दिसंबर महीने में सभी को कोरोना के दोनों डोज लगाने का निर्णय लिया है। प्रशासन ने वैक्सीनेशन को तेज करने के लिए जिले में आज से वैक्सीनेशन महा अभियान चला दिया है।



पुलिस फिर रास्तों पर मास्क नहीं पहनने पर जुर्माना लगाएगी



प्रशासन अब मास्क के लिए रोको टोको अभियान चलाएगी। अब से रोजाना सैंपल की संख्या भी बढाई जाएंगी। आज से जिले में स्थित सभी ऑक्सीजन प्लांट की टेस्टिंग शुरू की जाएगी। कुछ ऑक्सीजन प्लांट ऑपरेटर के अभाव बंद पड़े हैं, उनको भी चालू किया जाएगा। प्रशासन जल्द ही काइसिस मैनेजमेंट की बैठक भी बुला रहा है। कोरोना को हराने के लिए देश के पास वैक्सीनेशन ही सबसे बड़ा हथियार है और सरकार इस पर तेजी से कार्य भी कर रही है। प्रदेश के हर जिले में वैक्सीनेशन महा अभियान चलाया जा रहा है। प्रशासन ने दिसंबर माह में शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन करने का लक्ष्य रखा है।



अब प्रतिदिन 10 हजार से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी



आंकड़े बता रहे हैं कि जिले में अब तक 60 फ़ीसदी लोगों को कोरोना के दोनों डोज लग चुके हैं। इस हिसाब से दिसंबर माह में शत प्रतिशत वैक्सीन लगाने के लिए सरकार रोजाना 10 हजार से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाएगी। अब प्रशासन के पास वैक्सीन की उपलब्धता भी है, जिससे लक्ष्य बड़ा नहीं है। पॉजिटिव बनने के बाद उन्हें जल्दी जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा जाएगा। पुलिस जल्द रोको टोको अभियान और मास्क नहीं पहनने वालों पर चालानी कार्यवाही करेगी। जिले में मंदसौर ,नारायणगढ़ सहित पांच जगहों पर आक्सीजन प्लांट लगे हुए हैं। प्रशासन उन्हें भी जल्द से जल्द ठीक करेगी। इस बार मंदसौर जिला पहले से ही सतर्क हो गया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ