मंदसौर में चलेगी गांधीगिरी, सड़कों पर घूम रहे अवारा पशुओं के मालिक के घर जाकर माला पहनाएंगे कार्यकर्ता

 शहर में घूम रहे आवारा गोवंश के मालिकों को गांधीगिरी सबक सिखाया जाएगा 2021



मंदसौर में इतने अवारा गोवंश हों गए हैं कि हर चौराहों पर गोवंश के कारण जाम लग रहें हैं। प्रशासन और सरकार इस समस्या को दूर करने के लिए बहुत सारे अभियान चला रही है और गोवंशो को गौशाला पहुचा रहीं हैं लेकिन थोड़े दिनों में फिर वहीं समस्या खड़ी हो रही है। अबकी बार इस समस्या से निपटने के लिए वित्त एवं आबकारी मंत्री जगदीश देवड़ा ने नया तरीका अपनाया है जिसमें उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं से इसके खिलाफ गांधीगिरी करने को कहा है। मंत्री जगदीश देवड़ा ने अपने कार्यकर्ताओं से कहा है कि शहर में घूम रहे आवारा गोवंश के मालिक को ढूंढा जाए और उनके घर जाकर उन को माला पहनाई जाए और गोवंश को अच्छी तरह पालने और बाजारों में आवारा नहीं छोड़ने की विनती की जाए।



शॉपिंग कंपलेक्स के लोकार्पण के दौरान जगदीश देवड़ा ने लिया फैसला



प्रदेश के वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा दलोदा क्षेत्र में अखिलानंद ग्रामीण गौशाला के शॉपिंग कॉन्पलेक्स का लोकार्पण करने पहुंचे थे। अखिलानंद ग्रामीण गौशाला समिति द्वारा यहां पर 10 दुकानों का निर्माण किया गया है जिसका लोकार्पण करने वहां पर वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा पहुंचे थे। इसी दौरान भाषण में वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने यह बात कही थी। उन्होंने अपने भाषण में कहा कि पूरे प्रदेश में हर शहर में सड़कों पर आवारा गोवंश घूम रहे हैं। इनके मालिक दूध निकालकर इनको आवारा छोड़ देते हैं जिससे यह शहर की सड़कों पर आ जाते हैं और इससे काफी यातायात प्रभावित हो रहा है। सड़कों पर जाम लगने के कारण कई दुर्घटनाएं भी हो रही है। इसी को रोकने के लिए यह फैसला लिया गया है।




कार्यवाही के बजाय गांधीगिरी सबक सिखाया जाएगा



वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने कहा है कि ऐसे लोगों पर कार्यवाही की जानी चाहिए लेकिन अब ऐसे लोगों पर कार्यकर्ताओं द्वारा गांधीगिरी अपनाई जाएगी। मंत्री जगदीश देवड़ा ने अपने कार्यकर्ताओं से कहा है कि शहर में घूम रहे आवारा गोवंश के मालिक को ढूंढा जाए और उनके घर जाकर उन्हें फूल की माला बनाई जाए और गोवंश की अच्छी तरह सेवा करने की विनती की जाए। ऐसा करने से मालिक को शर्मिंदा होना पड़ेगा और वह दोबारा अपने गोवंश को सड़कों पर आवारा नहीं छोड़ेगा। जल्द ही कार्यकर्ता इस कार्य में जुट जाएंगे।





एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ