ईमानदार ऑटो वाला: मुंबई के दंपति इंदौर आटो में जेवर भरा बैग भुले, ऑटो ड्राइवर ने पुलिस को सौंपा


ऑटो चालक ने सोने चांदी से भरा बैग पुलिस थाने में देकर अपनी ईमानदारी बताई 2021



घटना इंदौर की है जहां पर एक ऑटो वाले ने अपनी ईमानदारी सबके सामने अपना परिचय दिया। एक दंपत्ति को मुंबई के रहने वाले थे और इंदौर के एक प्राइवेट कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए थे। इंदौर आकर उन्होंने दूसरे स्थान पर जाने के लिए आटो किया था। इस दौरान दंपत्ति का जेवर और रुपयों से भरा बैग आटो में ही छूट गया। उस बैग में नगदी रुपए और बड़ी मात्रा में सोने चांदी के जेवरात रखे हुए थे। दंपत्ति को जब पता चला तो उन्होंने थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई और पुलिस में आटो की तलाश करना शुरू कर दी। पुलिस फोटो ढूंढ रही थी और ऑटो चालक खुद पैसों से भरा बैग थाने में लेकर पहुंच गया। अधिकारियों और पुलिस वालों ने ऑटो ड्राइवर की ईमानदारी को देख उनकी प्रशंसा भी की।




दंपत्ति बस से इंदौर पहुंचे थे और फिर ऑटो किया था




दंपत्ति ने जानकारी देते हुए बताया कि वह तीन इमली चौराहा मुंबई के पास से बस में इंदौर आए थे। मुंबई आकर उन्होंने एक ऑटो किया और नंदबाग में उतर गए। ऑटो चालक का नाम समीर बताया गया है। दंपत्ति का नाम रोहित है और वह अपनी पत्नी के साथ आभूषण से भरा बैग ऑटो में ही भूल गए और चले गए।जब उनको पता चला तो वह पूरी तरह से घबरा गए। इस दौरान रोहित इंदौर में अपने पास स्थित थाने पहुंचा और पुलिस को इस मामले की खबर दी।पुलिस ने कंट्रोल रूम पर प्रसारण के दौरान ऑटो चालक को ढूंढना शुरू कर दिया। इधर समीर अपने ऑटो में दूसरी सवारी की तलाश के लिए लग गया। 



समीर सोने चांदी के आभूषणों से भरा बैग थाने लेकर चला गया




सवारी ढूंढते ढूंढते समीर की नजर जब फोटो में पीछे वाली सीट के नीचे गई तो वहां पर उसे एक नजर आया जो दंपत्ति आटो में भूल कर चले गए थे। समीर उनको बैग देने के लिए वापस नंदबाग चला गया लेकिन वह उसे वहां पर नहीं दिखे। इसके बाद समीर ऑटो लेकर आजाद नगर थाने पहुंच गया। समीर ने आभूषणों से भरा बैग पुलिस को सौंप दिया और मामला बता दिया कि दो सवारी मेरे आटो में यह बैग भूल कर चले गए हैं। पुलिस ने इस दौरान समीर की सूचना के अनुसार जानकारी निकाली और दंपत्ति को थाने बुलाकर बैग सौंप दिया। थाने में मौजूद अधिकारियों और पुलिस वालों ने ऑटो चालक समीर की काफी प्रशंसा की और प्रोत्साहित भी किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ