मंदसौर को अब जाकर मिली डेंगू से राहत, जिले में 100 से अधिक हाटस्पाट थे, लेकिन अब एक भी नहीं है

 

जिले में एक भी डेंगू प्रभावित क्षैत्र नहीं बचा है 2021



 पूरे मध्यप्रदेश में डेंगू के मामले में सबसे आगे चल रहे मंदसौर जिले को अब जाकर राहत मिली है। मध्यप्रदेश में डेंगू हाटस्पाट के मामले में मंदसौर का नाम सबसे ऊपर था और जिले में तेजी से डेंगू के मामले बढ़ते जा रहे थे। अब जाकर जिले को डेंगू महामारी से राहत मिली है और वर्तमान में जिले में एक भी हॉटस्पॉट नहीं है। नगर पालिका द्वारा सर्वप्रथम लापरवाही दिखाई गई थी लेकिन अधिक मामले सामने आने के बाद घर-घर जाकर सर्वे करना और जिले में लारवा नष्ट करने का अच्छा परिणाम अब सामने आया है। पूरे मंदसौर जिले में डेंगू का हॉटस्पॉट नहीं बचा है। नगरपालिका की सख्ती अब जाकर अच्छा परिणाम दिखा रहीं हैं।




जिले में वर्तमान में सिर्फ 9 डेंगू पाज़िटिव मरीज है




पूरे मंदसौर जिले में वर्तमान में सिर्फ नो डेंगू पॉजिटिव मरीज बच्चे हैं, जिनका जिला अस्पताल में उपचार चल रहा है। इस मामले में सबसे खास बात यह रही है कि मंदसौर जिला भले ही मध्यप्रदेश में डेंगू के मामले में सबसे ऊपर था लेकिन अभी तक मंदसौर जिले में डेंगू से एक भी मौत नहीं हुई है।मंदसौर जिले में डेंगू के अब तक 1286 मरीज सामने आए हैं, जिन्हें जिले के 100 हॉटस्पॉट में रखा गया था ‌ पिछले दिनों जिले में एक लाख 14 हजार 655 घरों का सर्वे किया गया था।



11 हजार 516 जगह लार्वा पाया गया




नगरपालिका ने अभी तक मंदसौर जिले के 1 लाख 14 हजार 655 घरों में सर्वे किया,जिनमें से 11 हजार 516 जगह लार्वा पाया गया। इसके बाद नगरपालिका मंदसौर शहर और जिले में सफाई को लेकर और भी सतर्क हो गई और आखिर शनिवार को राहत भरी खबर सामने आ ही गई। अब मंदसौर जिले में एक भी डेंगू हाटस्पाट नहीं बचा है यानि जिले में एक भी डेंगू प्रभावित क्षैत्र नहीं बचा है। वर्तमान में जिले में 9 डेंगू पाज़िटिव मरीज है, जिनका जिला अस्पताल में उपचार चल रहा है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ