15 दिसंबर तक मौका: बिजली बिल एक साथ जमा करेंगे तो 40% और 6 किस्तों में देंगे तो 25% की मिलेगी छूट

 

15 दिसंबर तक बिजली बिल भरने वालों को दी जाएगी छूट 2021




कोरोना महामारी के दौरान बिजली विभाग पर कर्ज का पहाड़ गिर गया है। प्रदेश और जिले में कई लोगों के बिजली बिल बाकी पड़े हैं। लोगों से बिजली बिल वसूलने के लिए विभाग तरह-तरह के नियम बना रहा है। सर्वप्रथम बिजली विभाग ने बिजली बिल वसूलने के लिए बिजली कटौती चालू की थी लेकिन इससे भी कोई अच्छा परिणाम नहीं मिला तो फिर बाद में अब लोगों को छूट देना शुरू की है। कोरोना महामारी के दौरान जिले के 50% से अधिक लोगों के बिजली बिल बकाया हो गए थे और सरकार ने इन्हें छोड़ कर ताजा बिल भरने के लिए कहा था। इस प्रकार जिले में 30 करोड़ से अधिक रुपए का कर्जा बिजली विभाग पर हो गया था।



6 करोड़ रुपए पेनल्टी के बढ़ा दिए गए



पूरे जिले में सभी उपभोक्ताओं पर 30 करोड से अधिक रुपए का कर्जा विभाग पर आ गया था और इस पर 6 करोड रुपए का पेनल्टी भी लगा दी गई थी। विभाग ने इस बार बकाया बिल वसूलने के लिए समाधान योजना लागू की है। बिजली विभाग ने लोगों को एक साथ और 6 किस्तों में बिल जमा करने की  योजना लागू की है। इसके तहत उपभोक्ताओं को किस्त के हिसाब से छूट भी दी जाएगी और अगर 15 दिसंबर तक उपभोक्ता बिल जमा नहीं करते हैं तो पेनाल्टी सहित बिल भरना पड़ेगा। जिले में 1 किलो वाट बिजली कनेक्शन वाले 2 लाख 36 हजार उपभोक्ता है।




कोरोना के कारण लोग बिल जमा नहीं कर पाए थे




कोरोना महामारी के कारण लोगों की आर्थिक स्थिति खराब हो गई थी और बड़ी संख्या में उपभोक्ता बिल जमा नहीं कर पाए थे। सरकार ने इस स्थिति को देखते हुए सभी उपभोक्ताओं के बिल 31 अगस्त तक रोक दिए थे। लोग उन दिनों को माफ समझ रहे थे लेकिन सरकार ने अब उन्हें वसूलने के लिए समाधान योजना शुरू कर दी है। बिजली कार्यपालन यंत्री प्रेम पालीवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि उपभोक्ता अगर एक साथ पूरा बिल जमा करता है तो उसे पेनल्टी नहीं देनी होगी और उसके साथ 40% की छूट दी जाए और अगर उपभोक्ता 6 किस्तों में बिल जमा करता है तो उसे 25% की छूट दी जाएगी। इन दोनों में से किसी भी ऑप्शन को चयन करने के लिए अंतिम तिथि 15 दिसंबर तय की गई है इसके बाद उपभोक्ता को पेनल्टी के साथ ही बिल जमा करना पड़ेगा।





एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ