मंदसौर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन के टॉयलेट में मिला नवजात, अस्पताल ले जाने से पहले हुई मौत

 

ट्रेन के डिब्बे में मिला नवजात 2021



मंदसौर जिले के शामगढ़ रेलवे स्टेशन पर एक अजीब घटना सामने आई है जिसमें स्टेशन पर खड़ी रेल के एक डिब्बे के टॉयलेट में एक नवजात शिशु मिला है। शामगढ़ रेलवे स्टेशन पर ट्रेन के 05831 कोच में एक टॉयलेट में नवजात शिशु मिलने की खबर सामने आई है। ट्रेन के टॉयलेट में नवजात के मिलने के बाद जीआरपी ने बच्चे को कब्जे में ले लिया है और आरोपी की तलाश शुरू कर दी है। जानकारी से पता चला है कि ट्रेन के टॉयलेट में नवजात काफी समय तक अकेला पढ़ा था और चीख रहा था। इस दौरान किसी यात्री द्वारा उसे देखा गया और उसके बाद पुलिस तक सूचना पहुंचाई गई।




सीआरपीएफ के जवानों ने रेल के डिब्बे की जांच की



प्रबंधन समिति ने जानकारी देते हुए बताया कि वडोदरा से कोटा जाने वाली पैसेंजर ट्रेन के एक कोच के टॉयलेट में एक नवजात शिशु के होने की खबर महिदपुर में आरपीएफ को दी गई थी। सूचना मिलते ही आरपीएफ ने इसकी सूचना जीआरपी को दी। इसके बाद टीम ने शामगढ़ रेलवे स्टेशन पर ट्रेन को तीन नंबर प्लेटफार्म पर रुकवाया और खबर के अनुसार ट्रेन के डिब्बे की जांच की गई। आरपीएफ और जीआरपी के जवानों ने ट्रेन के डिब्बे में से नवजात शिशु को बरामद किया और उसे अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल मैं डॉक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया और कहा कि इसकी मृत्यु अस्पताल आने से पहले ही हो चुकी थी। इसके बाद बच्चे का पोस्टमार्टम किया गया।



मंदसौर पीजी कॉलेज में हुआ पुलिस और एनआईसीयू कार्यकर्ताओं के बीच झगड़ा



मंदसौर के पीजी कॉलेज में शिवराज सिंह चौहान के पुतले को जलाने के दौरान एनआईसीयू कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच झड़प हो गई। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुतला जलाने के दौरान पुलिस द्वारा एनआईसीयू कार्यकर्ताओं पर पानी की बौछारें छोड़ी गई जिससे कार्यकर्ताओं ने आक्रोशित होकर सड़क पर बैठ गए। झगड़ा में कई छात्र कार्यकर्ताओं के कपड़े भी फट गए। आधे घंटे तक प्रदर्शन करके कार्यकर्ता चले गए। कार्यकर्ता मंडला में हुए छात्र की हत्या का विरोध कर रहे थे और इस दौरान पुलिस ने बल का उपयोग कर लिया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ