पशुपतिनाथ मंदिर परिसर में कैफेटेरिया को टूरिज्म हब बनाना था, दो सालों से नहीं खुले ताले




पशुपतिनाथ मंदिर समिति पिछले 2 सालों से मंदिर को आकर्षित बनाने के लिए प्रयास कर रही है लेकिन अभी तक कुछ कार्य ऐसे हैं जो अधूरे ही पड़े हैं। पशुपतिनाथ मंदिर परिसर क्षेत्र में मंदिर प्रबंधन समिति द्वारा ठेकेदार से 2 साल पहले ही कैफेटेरिया को टूरिज्म प्लेस बनाने के लिए खाली करवा दिया गया था। इसके बाद मंदिर प्रबंधन समिति द्वारा कैफेटेरिया को टूरिज्म प्लेस बनाने के लिए प्लानिंग की गई थी लेकिन पिछले 2 सालों से इस पर कोई अमल नहीं हो पाया है और यहां पर सारी हरियाली भी सूख गई है। वर्तमान में कैफिटेरिया परिषद विरान पड़ा है। अब जाकर तहसीलदार का कहना है कि जिस प्रकार से प्लानिंग की गई थी उस प्रकार से जल्द ही कार्य शुरू कर दिया जाएगा।



दो सालों से नहीं खुला है ताला, हरियाली भी सूख गई



दिसंबर 2019 में मंदिर समिति द्वारा ठेकेदार को कैफेटेरिया खाली करने के लिए कहा गया था और ठेकेदार ने जनवरी 2020 तक उसे खाली भी कर दिया था जबकि ठेकेदार की अवधि पूरी भी नहीं हुई थी। कैफेटेरिया खाली होने के बाद तत्कालीन कलेक्टर मनोज पुष्प द्वारा एवं अन्य अधिकारियों द्वारा इस परिसर का निरीक्षण किया गया था और परिसर को कैफेटेरिया उद्यान एवं यहां पर टूरिज्म प्लेस बनाने के लिए एवं परिसर में सुंदरीकरण सहित अन्य कार्यों को लेकर निर्देश दिए गए थे। निर्देश देने के बाद 2 साल गुजर चुके हैं लेकिन अभी तक प्लानिंग पर अमल नहीं हो पाया है और कैफेटेरिया परिसर सुना ही पड़ा है।



क्या प्लानिंग की गई थी



कैफेटेरिया को टूरिज्म हब बनाने के लिए प्लानिंग की गई थी कि एक ही जगह जिले के सभी टूरिज्म में धार्मिक एवं ऐतिहासिक महत्व रखने वाले स्थानों से जुड़ी जानकारियां मिल सकेगी। पूरे प्रदेश के लोग यहां के लिए ऑनलाइन बुकिंग भी कर सकेंगे। इसके साथ ही परिसर में साउंड सिस्टम और रंग बिरंगी लाइट के साथ इसे और भी आकर्षित बनाने की प्लानिंग की गई थी। इन सभी कार्यों को पूरा कर कैफेटेरिया को एक सुंदर पर्यटक स्थल बनाना था लेकिन पिछले 2 सालों से इस प्रकार की कोई भी तैयार यहां पर नहीं की गई है। कैफेटेरिया को टूरिज्म हब बनाने की बात तो दूर मंदिर प्रबंधन समिति इसकी सही से देखरेख भी नहीं कर पा रही है और कैफेटेरिया परिसर में हरियाली की जगह झाड़ियां उग गई है। इस तरह से परिसर पूरा सुना हो गया है। अब जाकर संभावना लग रही है कि कार्य शुरू किया जाएगा।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ