पूर्व विधायक नानालाल पाटीदार का निधन: 18 महीने जंगल में रहे, 2 सालों से चल रहे थे बीमार

 

मंदसौर के पूर्व विधायक नानालाल पाटीदार का निधन 2021



मंदसौर जिले के हर व्यक्ति के दिल में राज करने वाले पूर्व विधायक नानालाल पाटीदार का आज सुबह निधन हो गया है। मंदसौर जिले के सीतामऊ तहसील के पूर्व विधायक रह चुके नानालाल पाटीदार का जीवन 88 साल का रहा। पूर्व विधायक नानालाल पाटीदार गुराडिया प्रताप के रहने वाले थे। नानालाल पाटीदार का जन्म 10 नवंबर 1933 को अपने ही गांव सुवासरा तहसील के गुराडिया प्रताप में हुआ था।नानालाल पाटीदार ने अपना आधा जीवन लोगों की सेवा करने में बिता दिया। यह जनसंघ के समय से राजनीति में जुड़े हुए थे। नानालाल पाटीदार अपने क्षेत्र के हर किसान के दिल पर राज करते थे और धरती पकड़ किसान नेता कहे जाते थे।



सीतामऊ से 3 बार बन चुके थे विधायक



सीतामऊ विधानसभा क्षेत्र से नानालाल पाटीदार तीन बार विधायक रह चुके थे। अपने विधानसभा क्षेत्र के सभी ग्रामीण इलाकों में उनकी अच्छी खासी पहचान थी। सिर्फ मंदसौर जिले में ही नहीं बल्कि नानालाल पाटीदार की पहचान भोपाल की हर गलियों और संसद भवन के कोने कोने में इनकी अच्छी खासी पकड़ थी। विधायक होने पर भी उन्हें घमंड नहीं था और विधानसभा क्षेत्र के किसी भी गांव में कार्यक्रम होने पर चले जाते थे। किसी भी ग्रामीणों द्वारा बुलाने पर वह छोटे से छोटे कार्यक्रम में शामिल हो जाते थे। नानालाल पाटीदार दो बार लगातार विधायक के लिए चुने गए थे उसके बाद कांग्रेस पार्टी के धनसुख लाल भचावत से हार मिली थी और 2003 में दोबारा विधायक पद के लिए चुन लिए गए थे।



नानालाल पाटीदार ने आपातकाल के कारण 18 महीने जंगल में गुजारे थे




नानालाल पाटीदार ने सन 1956 में राजनीति में कदम रख दिया था। इस दौरान जब आपातकाल की स्थिति बनी तो उन्होंने 18 महीने जंगल में जाकर बिताए थे। नानालाल पाटीदार पदों पर रहकर लोगों के दिलों में राज किया था। नानालाल पाटीदार दो बार मंदसौर जिले के पार्टी अध्यक्ष भी बने थे। नानालाल पाटीदार का देहांत होने पर प्रदेश के सभी नेता शोक व्यक्त कर रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्विटर पर शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि माननीय नानालाल पाटीदार का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा। मंदसौर के वर्तमान विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया ने भी ट्विटर पर शोक व्यक्त किया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ