मंदसौर: धूप में धरना दे रहे थे किसान, कलेक्टर ने एसी में बिठाया, फसल नुकसानी का किया प्रदर्शन

 





भारतीय किसान संघ के बैनर तले मंदसौर में किसानों द्वारा जिले भर में हुए बारिश के कारण नुकसान के लिए और अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करते हुए कलेक्टर ऑफिस पहुंचे। किसान अपनी फसल के नुकसान को लेकर सर्वे कराने के लिए कलेक्टर गौतम सिंह को ज्ञापन देना चाहते थे। तैनात पुलिस बल के बीच जब कलेक्टर नहीं पहुंचे तो वह कलेक्टर को ही ज्ञापन देने पर अड़ गए। किसान इससे आक्रोशित होकर विरोध प्रदर्शन करने के लिए तेज धूप के बीच ही कलेक्ट्रेट के बाहर धरने पर बैठ गए और विरोध शुरू कर दिया।




कलेक्टर ने किसानों को एसी में बिठाया




जब वहां पर कलेक्टर वहां पहुंचे और एडीएम आरपी वर्मा समेत अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। किसान संघ ने मांगों को लेकर ज्ञापन दिया समस्या बताई तो कलेक्टर ने किसानों से कहा कि यहां इतनी तेज धूप में क्यों बैठे हो।हाल में जाकर बैठो मैं अधिकारियों को बुलाकर बैठक करवाता हूं। इसके बाद कलेक्टर किसानों को हॉल में ले गए और एसी में बिठाया। उसके बाद एसी में बिठाकर अफसरों के साथ बैठक करवाई। बैठक में किसानों ने एक-एक करके अपनी समस्या बताई और राहत की मांग की। इसके बाद अफसरों ने किसानों को राहत देने की बात कही।



किसानों को क्या-क्या समस्याएं हो रही है



भारतीय किसान संघ के पदाधिकारियों ने अधिकारियों को बताया कि अतिवृष्टि के कारण किसानों की फसलें बर्बाद हो गई है और काफी नुकसान हो गया है। किसानों की लागत भी नहीं निकल पा रही है। ऐसे में सोयाबीन, प्याज और उड़द से लेकर किसानों को बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है। उन्होंने सर्वे कराकर नुकसानी की राहत की मांग की है। किसानों ने यह भी मांग की है कि वर्ष 2019 में जिन किसानों को मुआवजा नहीं मिला था उन्हें मुआवजा देना चाहिए। विद्युत विभाग द्वारा भी किसानों को मनमाने बिल देकर परेशान किया जा रहा है। किसानों से अवैध वसूली भी की जा रही है। खराब ट्रांसफर और झूलते तार की वजह से भी किसानों को परेशानी हो रही है। इस दौरान एडीएम के साथ ही कृषि विभाग ,विद्युत वितरण कंपनी राजस्व विभाग के अधिकारी मौजूद थे।




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ