मंदसौर जिले के कई लोगों की जिंदगी आईपीएल क्रिकेट में सट्टा लगाने से दाव पर लगी, जानिए कौन-कौन

 



मंदसौर में लगातार पुलिस आईपीएल पर सट्टा लगाने वालों के खिलाफ कार्यवाही कर रहीं हैं। एक महिने के अंदर पुलिस ने सट्टा लगाने वालों के खिलाफ पांच बड़ी कार्यवाही को अंजाम दिया है। आईपीएल क्रिकेट का सट्टा युवा लोगों की जिंदगी बर्बाद कर रहा है लेकिन मंदसौर जिला में एक के बाद एक सट्टा लगा कर बर्बाद होते जा रहे हैं। इस लालच भरे दलदल में कई युवा रोजाना डुबते जा रहें हैं। कोतवाली पुलिस ने पिछले 45 दिनों के अंदर पांच बड़ी सट्टा लगाने वालों के खिलाफ कार्यवाही की है। पुलिस ने कई सटोरियों को रंगे हाथों पकड़ लिया है और कुछ सटोरियों की तलाश कर रही है।



पुलिस अब सटोरियों के खिलाफ सख्त कदम उठाने वाली है



मंदसौर पुलिस अब आईपीएल में सट्टा लगाने वालों के खिलाफ बड़ा कदम उठाने जा रही है। पुलिस आने वाले दिनों में जबरदस्त कार्यवाही सटोरियों के खिलाफ करने वाली है। आईपीएल के सट्टे जिला मुख्यालय सहित अन्य नगरों में भी लगाए जा रहे हैं। गरोठ क्षेत्र में आईपीएल का सट्टा लगाने वाले राजस्थान के भवानी मंडी में सट्टा उतारने की खबर है। पुलिस के सूत्रों की मानी जाए तो पिछले वर्ष अन्य जिलों की पुलिस ने आईपीएल में सट्टा लगाने वालों के खिलाफ कार्यवाही की थी। इसमें गरोठ के कुछ युवक का नाम सामने आया था। फिलहाल पुलिस द्वारा मंदसौर शहर में ही बड़े सटोरियों के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है।



जानिए मंदसौर शहर में हुई तीन बड़ी कार्यवाही



केस- 1


2 अक्टूबर को पुलिस ने आईपीएल पर सट्टा लगाने वाले तीन आरोपियों को पकड़ा था। इनमें अभी भी 5 आरोपी फरार चल रहे हैं जिनमें कालू पंजाबी सहित उसके 5 साथी शामिल है। पुलिस ने कुछ नगद पैसे, आरोपियों के मोबाइल और 44 लाखों रुपए का हिसाब जप्त किया था।


केस-2



8 अक्टूबर को पुलिस ने सुनील जैन इस्माईल खां और सादिल को आईपीएल का सट्टा लगाते हुए पकड़ा था।इस मामले में खलील, ईदरिश और सौरभ फरार चल रहे हैं। पुलिस ने इनके पास में से 61 लाख रुपए से अधिक का हिसाब किताब,₹40000 नगदी सहित, अन्य सामान जप्त किए थे।



केस-3



24 सितंबर को सतीश को पुलिस ने आईपीएल का सट्टा लिखते हुए गिरफ्तार किया था। इसमें आरोपी सचिन फरार है। पुलिस ने आरोपी के पास से ₹23000 नगदी जब तक किए थे। पुलिस ने कहा है कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों के खिलाफ जबरदस्त कार्यवाही की जाएगी और फरार आरोपियों की तलाश तेजी से की जा रही है। जल्द ही सट्टा लगाने वालों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ