अपनी टीम के साथ अतिक्रमण हटाने गए प्रशासन का किया विरोध, वापस लौटना पड़ा

 


अतिक्रमण हटाने गए प्रशासन को बिना कार्यवाही लौटना पड़ा




मंदसौर जिले में प्रशासन तेजी से अतिक्रमण हटा रहा है और इसको लेकर प्रतिदिन सफलताएं भी मिल रही है लेकिन बीते दिनों दलोदा नगर में प्रशासन अपनी टीम के साथ अतिक्रमण हटाने गया लेकिन प्रशासन को बिना कार्यवाही के ही वापस लौटना पड़ा। प्रशासन का अमला सरपंच के तीखे विरोध के सामने फीका पड़ गया। अभियान मैं अतिक्रमण हटाने के तहत ऐसा दूसरी हुआ है जब अतिक्रमण हटाने गए प्रशासन की टीम को खाली हाथ वापस लौटना पड़ा। दोनों बार प्रशासन के खिलाफ विरोध ग्राम पंचायत के सरपंच विपिन जैन द्वारा किया गया और सरकार को बिना अतिक्रमण हटाए ही वापस लौटना पड़ा।




प्रशासन बिना सूचना दिए चला देता है जेसीबी



पहली बार प्रशासन पर आरोप लगाया गया था कि बिना सूचना दिए ही अतिक्रमण पर कार्यवाही करता है। इसके बाद दूसरे प्रयास में प्रशासन अपनी टीम बल के साथ अतिक्रमण हटाने निकला था। इस बार प्रशासन ने कोई गलती नहीं की थी और 2 दिनों पहले ही अतिक्रमण हटाने की सूचना दे दी थी लेकिन फिर भी सरपंच विपिन जैन के तीखे विरोध के कारण प्रशासन को बिना कार्यवाही के ही वापस लौटना पड़ा। दलोदा तहसीलदार संजय मालवीय ने जानकारी देते हुए बताया कि दलोदा नगर के बीच से हाईवे सड़क गुजर रही है और दोनों तरफ सर्विस रोड पर लोगों ने फैलाव कर लिया है। लोगों द्वारा सर्विस रोड पर अतिक्रमण करने के कारण रोजाना दुर्घटनाएं हो रही है। इन्हें दुर्घटनाओं को रोकने के लिए प्रशासन प्रयास कर रहा है और प्रशासन ने कहा है कि वह किसी का नुकसान नहीं चाहता है।




पंचायत में वाटर एटीएम के नाम पर किया अतिक्रमण




कातिलाना जानकारी देते हुए बताया कि आज से 3 साल पहले पंचायत में रह वासियों को राहत प्रदान करने के लिए दो चौराहे पर गुमटिया बनाकर उनमें वाटर एटीएम लगवाया था। अब यह एटीएम बंद हो चुके हैं लेकिन पंचायत इस जगह को नीलाम करने पर तुली हुई है जबकि यह सरकारी जगह है। यहां पर अतिक्रमण किया गया है फिर भी सरपंच विरोध कर रहा है कि उनको हटाने के बाद इस जगह की कीमत नहीं रह जाएगी। सरपंच विपिन जैन का कहना है कि उन्हें अतिक्रमण हटाने में कोई एतराज नहीं है। हमें सिर्फ इस बात का एतराज है कि प्रशासन सभी पर एक समान कार्यवाही नहीं करता है और कुछ चिन्हित लोगों को ही परेशान करता है। प्रशासन दुर्घटनाएं रोकना चाहती है तो सबसे पहले रोड को सही करना चाहिए ना कि अतिक्रमण हटाना चाहिए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ