मंदसौर की मल्हारगढ़ तहसील में पलंग के नीचे आकर बैठ गया 8 फीट लंबा मगरमच्छ

 





मंदसौर जिले की मल्हारगढ़ तहसील में एक अजीब घटना सामने आई है जिसमें रात को पलंग के नीचे एक 8 फीट लंबा मगरमच्छ आकर बैठ गया। मल्हारगढ़ तहसील के गांव रायखेड़ा की यह घटना है जिसमें अपने पलंग के नीचे 8 फीट लंबा मगरमच्छ देखकर एक बुजुर्ग के होश उड़ गए। मगरमच्छ को अपने पलंग के नीचे देख कर वह इतना डर गए कि काफी देर तक अपने परिजनों को आवाज भी नहीं लगा सके क्योंकि उन्हें लग रहा था कि आवाज से मगरमच्छ को पता चल जाएगा। इस कारण बुजुर्ग समय तक चुप बैठा रहा और आवाज तक नहीं लगा पाया। उसके बाद परिजनों को पता चला तो बाहर से कुछ लोगों को बुलाया गया।




वन विभाग ने मगरमच्छ को पकड़कर चंबल नदी में छोड़ा 



जब सभी को पता चल गया कि घर में मगरमच्छ घुस गया है तो वन विभाग की टीम और ग्रामीणों ने रेस्क्यू कर मगरमच्छों को पकड़ा और चंबल नदी में छोड़कर आए। मल्हारगढ़ के गांव राय खेड़ा में मांगीलाल दायमा के घर में मगरमच्छ घुस गया। उनके पोते ने बताया कि मेरे दादाजी मांगीलाल दायमा घर में पलंग पर सो रहे थे और वहां पर 8 फीट लंबा मगरमच्छ आकर पलंग के पास बैठ गया। दादाजी की आंख खुली तो वह घबरा गए। भारी भरकम मगरमच्छ को देखकर वह डर गए क्योंकि पलंग ज्यादा ऊंचा भी नहीं था। फिर धीरे से उन्होंने परिवार वालों को आवाज लगाई और फिर लोगों को बुलाकर वन विभाग की टीम को बुलाया गया और वन विभाग की टीम ने मगरमच्छ को पकड़कर चंबल नदी में छोड़ दिया।



गांव में अक्सर आ जाते हैं मगरमच्छ



वन विभाग को सूचना देने के बाद देर रात विभाग की टीम गांव में पहुंची और मगरमच्छ को पकड़ा। वन विभाग ने मगर मच्छ को रेस्क्यू कर पिंजरे में बंद किया और चंबल नदी में छोड़ कर आएं। गांधी सागर जलाशय से सटे हुए गांव में बारिश के दौरान अक्सर चंबल नदी से मगरमच्छ निकलकर अक्सर घरों में घुस जाते हैं। ऐसे में हर बार ग्रामीण और वन विभाग की टीम मगरमच्छ को पकड़कर नदी में छोड़ देती है। सिर्फ बारिश ही नहीं बल्कि गर्मी के दिनों में भी गांव वालों का यही हाल है की किसी भी समय घरों में मगरमच्छ घुस आते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ