मंदसौर और नीमच में सोने के नाम पर पीतल की टिकिया देकर धोखाधड़ी करती थी महिलाएं, पुलिस ने किया गिरफ्तार

 सोने के नाम पर पीतल की टीकिया बेचती थी महिला



मंदसौर और नीमच जिले के सिर्फ युवक नहीं बल्कि महिलाएं भी मास्टरमाइंड निकल रही है। नीमच जिले के मनासा क्षेत्र में एक महिला पीतल को सोना बना कर बेचती थी और दूसरी महिलाओं को उल्लू बनाती थी। महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। थाना प्रभारी के एल डांगी ने बताया कि 8 फरवरी 2021 को भाटखेड़ी नाका मनासा निवासी पीड़ित फकीरचंद पिता जगदीश भोई ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके साथ एक महिला ने सोने की टिकिया के नाम पर पीतल की टिकिया देकर साढ़े तीन लाख रुपए की धोखाधड़ी की है। इस पर पुलिस ने महीना पर प्रकरण दर्ज किया था और जांच में लग गई थी।



मंदसौर की रहने वाली थी महिला



जानकारी में पता चला है कि आरोपी महिला मंदसौर जिले की रहने वाली थी। पुलिस द्वारा प्रकरण दर्ज करने के बाद एसपी सूरज कुमार वर्मा ने मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी कनेश एवं मनासा एसडीओपी संजीव मुले के मार्गदर्शन तथा मनासा थाना प्रभारी दांगी के नेतृत्व में टीम गठित की। टीम ने वारदात को अंजाम देने वाली आरोपी महिला संगीता बाई उम्र 40 साल पति रमेश डामोर निवासी गांव कोटडा नवाफालिया पुलिस चौकी पिटोल थाना झाबुआ हाल मुकाम बादपुर थाना नारायणगढ़ जिला मंदसौर को गिरफ्तार करके हड़पे गए ढ़ाई लाख रुपए बरामद कर लिए हैं। पुलिस आरोपी महिला से पूछताछ कर रही है।



महिला को पकड़ने में किन-किन का मुख्य योगदान रहा



पुलिस मामले की जांच और गहराई तक कर रही है क्योंकि पुलिस को शंका है कि इस कार्य में महिला अकेले नहीं हो सकती है। कार्यवाही में दुर्गा शंकर तिवारी, साइबर सेल के पआ प्रदीप शिंदे, आर धर्मेंद्र सिंह , तेज सिंह सिसोदिया, दीपक सेन, अनिल धाकड़, रमेश बैरागी, महिला कॉन्स्टेबल प्रियंका शक्तावत की भूमिका रही है। पुलिस आगे की पूछताछ कर रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ