पिपलियामंडी में देशी के बाद अब अंग्रेजी शराब कांड, अवैध अंग्रेजी शराब बिक्री पर मारा छापा, आरोपी बता दिया फरार

 



कुछ दिनों पहले ही पिपलिया मंडी में जहरीली शराब कांड हुआ था जिसका मामला अभी तक पूरी तरीके से सुलझा नहीं है और अब अंग्रेजी शराब का मामला सामने आ गया है। आबकारी मंत्री जगदीश देवड़ा के क्षैत्र में पुलिस ने यहां देसी शराब दुकान के पास बने कमरे पर दबिश देकर भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब जब्त की है। पुलिस टीम का नेतृत्व एडिशनल एसपी अमित कुमार वर्मा ने किया। जांच के दौरान पुलिस ने शराब दुकान के पास आहते निकट में ही बने कमरे का ताला तोड़ा और छापा मारा। इस दौरान पुलिस ने बड़ी मात्रा में अंग्रेजी शराब और बीयर कुल 129 लीटर जब्त की। कार्यवाही के बाद एसपी ने टी आई ओपी तंतवार को लाइन अटैच कर दिया।



दोनों ठेकों पर एक साथ जांच की गई



जानकारी के अनुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमित कुमार वर्मा सोमवार को मंदसौर से पुलिस टीम को लेकर पिपलिया कृषि उपज मंडी से आगे स्थित देसी शराब की दुकान पर पहुंचे। जांच के दौरान पुलिस ने देसी शराब की दुकान के पास बने हुए कमरे का ताला तुड़वाया। इस दौरान पुलिस द्वारा अवैध रूप से एकत्रित अंग्रेजी शराब जब्त की गई। बताया गया कि दूसरी टीम डीएसपी सौरभ कुमार ने पिपलिया अंग्रेजी ठेके पर दबिश देकर जांच की लेकिन वहां पर कुछ नहीं मिला।आस पास दुकानों पर जरूर देशी शराब बिकना पाया गया। हालांकि पुलिस ने वहां कोई कार्यवाही होने से इंकार किया है। अवैध शराब जब्त की कार्यवाही के बाद देर शाम एसपी सुनील पांडे ने पिपलिया टीआई को लाइन अटैच कर दिया।



मुखबिर की सूचना पर हुई कार्रवाई



जानकार सूत्रों के अनुसार जिला पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि देसी शराब की दुकान के पास अवैध अंग्रेजी शराब की बिक्री की जा रही है। मुखबिर ने पुलिस को सूचना देते हुए बताया कि कृपया मंडी में देसी शराब के ठेके पर अंग्रेजी शराब और अंग्रेजी शराब के ठेके पर देसी शराब बेची जा रही है। बताया गया कि इसकी शिकायत स्थानीय पुलिस एवं आबकारी विभाग को भी की गई थी। लेकिन कोई कार्यवाही नहीं की गई। जानकारी के अनुसार मंदसौर पुलिस टीम ने देसी शराब दुकान से अंग्रेजी शराब खरीदते हुए वीडियो बनवाया। पुख्ता सूचना के पश्चात पुलिस ने कार्यवाही को अंजाम दिया। कार्यवाही शुरू होने के बाद पिपलिया चौकी पुलिस प्रभारी कपिल सौराष्ट्रीय मौके पर पहुंचे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ