संजीत नाका ओवरब्रिज के कार्य में आई तेजी, 1 साल में लोग ब्रिज पर से गुजर सकेंगे

 Sanjeet Road Over Bridge Mandsaur 2021



संजीत नाका रोड़ पर बन रहे ओवरब्रिज के कार्य में तेजी आ गई है। फाटक से दूसरी तरफ रहने वाली जनता को शहर में आने के लिए काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था क्योंकि एक ही ओवरब्रिज पर आधे शहर का भार है। बार बार जाम की स्थिति बन रही हैं। संजीत रोड़ ओवरब्रिज पर अब जाकर कार्य में तेजी आई है। पहले यहां का काम बहुत धीरे धीरे चल रहा था लेकिन अब ठेकेदार ने दावा किया है कि कार्य में तेजी लाएंगे और जल्द से जल्द लोगों की परेशानी को दूर करेंगे।



एक साल में ओवरब्रिज से गुजर सकेंगे वाहन



ठेकेदार ने यह भी कहा है कि एक साल में ही ओवरब्रिज पर से वाहन गुजर सकेंगे और इसलिए कार्य में तेजी लाई गई है। इंजीनियर ने भी कहा है कि सभी तकनीकी दिक्कतों को दूर किया जा रहा है और 50% कार्य भी पूरा हो चुका है। इंजीनियर ने भी कहा है कि कार्य को देखकर लग रहा है कि एक साल में ओवरब्रिज बन जाएगा और उपर से वाहन गुजरने लगेंगे। ब्रिज की लंबाई 735 मीटर है और इसके लिए 32 पिलर खड़े हो चुके हैं। रेल की पटरी और फाटक के बीच 6 पिलर पर स्लैब का कार्य रेल विभाग द्वारा किया जाएगा। रेलवे के ठेकेदार द्वारा भी कार्य की शुरुआत कर दी गई है जल्द ही पटरी के ऊपर वाला ब्रिज भी बनकर तैयार हो जाएगा।



ब्रिज के आसपास के विद्युत पोल हटाए जा रहे हैं



रेलवे फाटक के आसपास का काम शुरू होने से पहले आस पास के विद्युत पोल हटाएं जा रहे हैं। ओवरब्रिज निर्माण कार्य 2018 में शुरू हुआ था जिसे वर्ष 2020 में बनकर तैयार होना था लेकिन अभी तक 50% काम ही पूरा हो पाया है।अभी तक 32 पिलर खड़े हो चुके हैं जिनमें से 10 पिलरों पर स्लैब डल चुका है।बाकी पिलरों पर स्लैब का कार्य चल रहा है। इसके साथ-साथ अब रेलवे का कार्य भी शुरू किया जा रहा है। इसके लिए रेलवे के ठेकेदार गोयल कंस्ट्रक्शन के मैनेजर अशोक पटेल ने ब्रिज का निरीक्षण भी कर लिया है जल्द कार्य शुरू करने का दावा भी किया है।



तकनीकी दिक्कतों के कारण रुका हुआ था कार्य



2020 में तैयार हो जाने वाला ब्रिज अभी तक आधा भी पूरा नहीं हुआ है क्योंकि यहां पर तकनीकी दिक्कतें आ रही थी लेकिन अब धीरे-धीरे सभी दिक्कतें दूर की जा रही है और कार्य में तेजी लाई गई है। ओवर ब्रिज को बनाने में 2634.48 लाख रुपए की लागत आएगी। पहले इसका कारण बहुत धीमी गति से चल रहा था जिससे फाटक के उस पार रहने वाले लोगों को आने जाने में परेशानी हो रही थी लेकिन अब ठेकेदार ने कार्य को जल्दी पूरा करने का दावा किया है और कहा है कि आने वाले 1 साल में ओवर ब्रिज पर से वाहन गुजरने लगेंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ