मौसम खुलते ही मंदसौर कृषि उपज मंडी में बंपर आवक, प्रांगण में ढ़ेर से निलाम की व्यवस्था हुई शुरू

 



मौसम खुलने के कारण और अवकाश के बाद मंडी खुलने के कारण मंदसौर कृषि उपज मंडी में खरीफ सीजन की नई उपज मंडी में आने के बाद कृषि उपज मंडी परिसर उपज लबालब हो गया। मंदसौर कृषि उपज मंडी में बंपर आवक होने के कारण मंडी गेट के बाहर में हजारों की संख्या में किसानों के वाहन खड़े रहे और इस कारण मंदिर के बाहर ट्राफिक जाम हो रहा था। किसानों ने वाहनों की लाइन लगाने में आधे से अधिक रास्ते का उपयोग कर लिया जिससे पूरे दिन जाम की स्थिति बनी रही।इससे पहले मंडी में वाहनों में उपज की निलामी होती थी।



मंडी प्रशासन ने कृषि उपज मंडी में नई व्यवस्था लागू की है




मंडी प्रशासन ने कृषि उपज मंडी में नई व्यवस्था लागू की थी लेकिन वह भी बोनी साबित हुई है। मंडी प्रशासन ने कृषि उपज मंडी में ढेर करके नीलामी की व्यवस्था शुरू कर दी है। प्रशासन ने नई व्यवस्था शुरू की है लेकिन इससे किसानों को कोई लाभ नहीं मिला है। मंडी प्रशासन ने भी दावा किया है कि नई व्यवस्था के कारण ही ऐसी स्थिति बनी हुई है। फिलहाल अवकाश होने के कारण और मौसम खुलने के कारण अचानक मंडी में भीड़ बढ़ गई है। यह स्थिति 2 दिन में सामान्य हो जाएगी।



सोयाबीन, गेहूं, प्याज और लहसुन की अधिक आवक हो रही है



मंदसौर कृषि उपज मंडी में फिलहाल सोयाबीन, गेहूं, प्याज और लहसुन की आवक अधिक बनी हुई है।जब भी मंडी में बंपर आवक होती है तो सामान्य बात है कि मंडी के बाहर वाहनों की भीड़ लग जाती है। इसके बाद भी मंडी प्रशासन इस पर कोई कठोर कार्रवाई नहीं कर रही है।इसका खामियाजा शहर भुगत रहा है। पहले मंडी में वाहनों में निलामी की जा रही थी लेकिन अब ढेर सिस्टम चालू कर दिया गया है।एक दो दिन में स्थिति सामान्य हो जाएगी। अवकाश और नई व्यवस्था के कारण भीड़ दिख रही है। सामान्य हो जाएगी लेकिन प्रशासन को कठोर नियम बनाना चाहिए।






एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ