मंदसौर: भाई बहन को खेत से अकेले भेजा घर, तालाब में डूबने से हुई मौत

 



शामगढ़ थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गांव जूनापानी में दो भाई बहनों की पानी में डूबने से मौत हो गई। शामगढ़ के चांद मगरा तालाब पर दोनों भाई बहन के डुबने से मौत हो गई। मौके पर रेस्क्यू टीम और पुलिस ने पहुंचकर दोनों को बाहर निकाला और फिर उनके शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। उसके बाद दोनों के शरीर को परिजनों को सौंप दिया गया। पुलिस ने मामला दायर कर लिया है और यह घटना होने के बाद पूरे गांव में शोक की लहर छा गई है। आज से 2 दिन पहले भी कुएं में गिरने से एक बालक की मौत हो गई थी और उसके बाद यह घटना सामने आई है।



बच्चे की उम्र 6 साल और बच्चे की उम्र 4 साल थी



मामले की जानकारी देते हुए शामगढ़ थाने के एसआई फिरोज कुरैशी ने बताया कि जूनापानी के रहने वाले बद्री सूर्यवंशी की पत्नी अपने दोनों बच्चों को लेकर खेत पर नींद आई के लिए गई थी। उसकी बेटी निशा की उम्र 6 साल है और बेटे विकास की उम्र 4 साल है। कुछ समय बाद उनकी मां ने उन बच्चों को घर जाने के लिए कहा, इस दौरान दोनों घर के लिए निकल पड़े लेकिन रास्ते में नहाने की ललक आई और घर जाने की बजाय दोनों तालाब की ओर नहाने चले गए। दोनों में जानकारी की अभाव होने के कारण वह तालाब में कूद पड़े और इस दौरान वह तालाब में डूबने लगे।




तालाब के आसपास कोई बड़ा व्यक्ति उपस्थित नहीं था




जब वह तालाब में डूब रहे थे इस दौरान तालाब के आसपास कोई बड़ा व्यक्ति उपस्थित नहीं था जो बच्चों को डूबने से बचा ले। जब इसकी जानकारी मिली तो तैराक हरि सिंह भाटी द्वारा दोनों भाई बहनों को तालाब से निकाला गया। उसके बाद पुलिस को मामले की सूचना दी गई। दोनों बच्चों के शरीर को शामगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया और उनका पोस्टमार्टम किया गया। उसके बाद बच्चों का शो परिजनों को सौंप दिया गया। बारिश के मौसम में आए दिन ऐसे मामले होते रहते हैं इसलिए अगर बच्चों को खेत पर ले जा रहे हैं तो पूरे समय अपने साथ रखें और घर पर किसी बड़े व्यक्ति की उपस्थिति में ही भेजें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ