मंदसौर में फिर डेंगू विस्फोट: एक साथ सामने आए डेंगू के 50 मरीज सामने, नहीं हो पा रहा डेंगू

 



मंदसौर जिले में डेंगू धीरे-धीरे बेकाबू होता जा रहा है। प्रशासन और विभाग कई प्रकार के प्रयास कर चुका है लेकिन डेंगू को रोक नहीं पा रहा है और रोजाना अस्पतालों में भीड़ लग रही है और आज भी एक ही 50 डेंगू के मरीज सामने आए हैं। जिले में डेंगू के मरीज 900 पार होने के बाद अब जाकर प्रशासन लोगों को जागरूक कर रहा है। पूरे मंदसौर जिले में एक साथ लोगों को जागरूक करने के लिए रैलियां निकाली जा रही है।वहीं बहुत जगहों पर अभी तक दवाई का छिड़काव भी नहीं किया गया है।



अधिकारियों की लापरवाही आ रही सामने



जब जिले में इतने डेंगू के मरीज रोजाना सामने आ रहे हैं और अधिकारियों ने इसके लिए पहले सतर्क आता नहीं बताई और उसका नतीजा आज हमारे सामने आ रहा है। जिले में अभी भी बहुत सारे गांव ऐसे हैं जहां पर डेंगू के लिए जागरूक नहीं किया गया है और ना ही अभी तक दवाई का छिड़काव किया गया है। अब धीरे-धीरे अधिकारियों की लापरवाही सामने आ रही है और उनके द्वारा किए गए कार्यों की पोल खुल रही है। कुछ गांव के लोग दवाई छिड़काव के लिए ज्ञापन भी दे चुके हैं।



50 मरीज आए सामने, जागरूक करने के लिए निकल रहीं रेलियां



मंदसौर में एक साथ 50 नए डेंगू के मरीज सामने आए हैं। इसमें सबसे अधिक मरीज शहर के ही है।अब डेंगू 1000 का आंकड़ा छूने वाला है। प्रशासन द्वारा किए जा रहे सभी प्रयास असफल हो रहें हैं। बढ़ रहें डेंगू के मामले से हर कोई घबरा रहा है।ऐसे में अब प्रशासन द्वारा सड़कों पर उतर कर डेंगू से बचने के लिए जागरूक किया जा रहा है। इसके साथ ही ग्रामीण इलाकों में दवाई का छिड़काव नहीं किया गया इसलिए कुछ गांव के लोगों ने कार्यालय जाकर ज्ञापन सौंपा है। प्रशासन अब गांव में जाकर सर्वे करेगा और सफाई के लिए जगह जगह पर दवाई का छिड़काव भी करेगा। आपको अपनी स्वच्छता रखना जरूरी है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ