मध्यप्रदेश के इंदौर में दंगे कराने की रची थी साजिश, हिंदू संगठन की रैलियों में चलाई थी गोली, चार गिरफ्तार

 इंदौर में आतंकवादी साजिश 



प्रदेश में धार्मिक और देश द्रोही मामले बहुत सामने आने लगे हैं। जिसमें से इंदौर भी एक मुख्य शहर है जिसमें से ऐसे कई मामले सामने आते रहते हैं। अभी अभी इंदौर मैं कुछ देशद्रोहियों द्वारा सांप्रदायिक दंगे कराने की साजिश का खुलासा सामने आया है। इस साजिश के मास्टरमाइंड को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है जिसका नाम अल्तमश खान है। इसके अलावा पुलिस ने 4 आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने मंगलवार को निकली हिंदू संगठन की रैली में गोली चलाने की भी साजिश रची थी। यह खुलासा पुलिस द्वारा जप्त किया गया आरोपी के मोबाइल से पता चला है। पुलिस द्वारा आरोपियों के मोबाइल का डाटा रिकवर किया गया जिसमें उन्होंने यह साजिश बना रखी थी।



अल्तमश तालिबानी सोच का आदमी है 



अल्तमश के मोबाइल डेटा से पता चला है कि वह तालिबानी सोच का आदमी था और उसने भगवा लव ट्रेप नाम का whatsapp Group भी बना रखा था। उसने यह भी चेतावनी दी थी कि मुस्लिम लड़कियां बगैर बुर्का बाहर ना जाए और मोबाइल का इस्तेमाल करना भी बंद कर दे। डीआईजी मनीष कपूरिया के मुताबिक, अल्तमश खान छेड़छाड़ के आरोपित तसलीम उर्फ अस्लीम चुड़ी वाला से हुई मारपीट के बाद सक्रिय हुआ था। उसने whatsapp pr security नाम का एक ग्रुप बनाया था। उसने आरोपित महोम्मद इरफान अंसारी उर्फ़ मुनाजीर , जावैद खान और सैयद इरफान अली के साथ मिलकर तय किया कि हिंदू जागरण मंच की रैली में एक व्यक्ति प्रवेश करेगा और गोलियां चलाकर भीड तर बतर कर देगा।



शहर में मारकाट का माहौल बनाने वाले थे आरोपी



आरोपी रैली में गोली चलाकर शहर में दंगा भड़काने वाले थे और उसके बाद शहर में मारकाट का माहौल बनाने वाले थे। एसपी आशुतोष बागरी के मुताबिक आरोपी सीरियल हमले और दंगे का मन बना चुके थे। यह शहर में इतनी घटनाएं करना चाहते थे कि उसके बाद स्थिति नियंत्रण में नहीं आती। स्थिति संभालते संभालते पुलिस परेशान हो जाती और एक जगह नियंत्रण करते तो दूसरी जगह आगजनी और घटनाएं शुरू कर देते। पुलिस ने भीम आर्मी के फर्जी मैसेज से आरोपियों को पकड़ लिया जो इंदौर में दंगे और मारकाट शुरू करना चाहते थे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ