Corona vaccine for childrens: 12 साल से बड़ी उम्र वाले बच्चों के लिए Vaccine का रास्ता साफ, बच्चों को भी लगाई जाएगी तीन डोज

 

Vaccine For Childrens




बच्चों के लिए corona vaccine बनाने के लिए कई दिनों से प्रयास किए जा रहे थे लेकिन अब जाकर बच्चों की corona vaccine का रास्ता साफ हो गया है। जिस प्रकार से corona ने देश में धूम मचाई थी और बहुत लोगों की मौतें हुई थी उसी डर से बच्चों के लिए वैक्सीन बनाई गई है ताकि बच्चों पर corona अपना प्रभाव नहीं दिखा पाए। कई प्रकार की वैक्सीन का trial भी किया गया लेकिन वह success नहीं हो पा रही थी लेकिन अब 12 साल से अधिक उम्र वाले बच्चों के लिए vaccine का रास्ता साफ हो गया है। CDSCO ने दावा किया है कि जल्द ही 12 साल से अधिक उम्र वाले बच्चों के लिए वैक्सीन आ जाएगी। इसके बाद अब जाइडस कैडिला की DNA तकनीकी से तैयार की गई vaccine को जल्द आपातकालीन उपयोग की मंजूरी दी जा सकती है।



यह छठी वैक्सीन जिसे भारत में emergency use की मंजूरी मिली है




भारत के औषधि महा नियंत्रक की मंजू जी के बाद देश में यह वैक्सीन लगना शुरू हो जाएगी। यह देश की छठी ऐसी वैक्सीन होगी जिसे देश में Emergency use के लिए मंजूरी दी जाएगी। India मैं यह दूसरी ओर दुनिया में यह पहली ऐसी वैक्सीन है जो DNA TECHNIQUE से बनाई गई है। बैठक में इसकी चर्चा की गई है और फिलहाल तीन डोज वाली जायकोव डी को इस्तेमाल करने की मंजूरी मिली है। इस vaccine में पहला डोज लगने के बाद दूसरा 28वे दिन और तीसरा 56वे दिन लगा दिया जाएगा। कंपनी द्वारा दो रोज वाली corona vaccine के लिए भी आवेदन मांगे गए थे लेकिन समिति ने इसके बारे में और जानकारी मांगी है उसके बाद meeting में इस पर फैसला लिया जाएगा।



12 से 18 उम्र वाले देश में 26 करोड़ बच्चे



जायकोव डी vaccine को सुरक्षित रखने के लिए दो से 8 डिग्री सेल्सियस तापमान की जरूरत पड़ेगी। हालांकि vaccine बनाने वाली कंपनी ने दावा किया है कि यह 25 डिग्री सेल्सियस पर भी खराब नहीं होगी। कंपनी ने कहा है कि वह हर वर्ष 10 से 12 करोड़ डोज तैयार कर सकती हैं। vaccine की कीमत फिलहाल तय नहीं की गई है हालांकि   National expert group on vaccine administration for covid 19 के एक सदस्य ने कहा है कि यह वैक्सीन काफी किफायती होगी। एक और जानकारी मिली है कि देश में 12 से 18 उम्र के बीच वाले बच्चों की संख्या 26 करोड़ है यानी कि सभी को एक डोज लगने में 2 साल लग सकते हैं। इस vaccine का 12 से 18 वर्ष के उम्र के 1 हजार बच्चों पर trial हो चुका है। कंपनी का दावा है कि यह 66.6 फिसदी कारगर है और माडरेट के मामले में यह 100% कारगर साबित हुई है।अब उम्मीद है कि जल्द ही यह vaccine लगने लग जाएगी।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ