हेलमेट लगाएं ,परिवार बचाएं: हेलमेट नहीं लगाने से मंदसौर में कुछ ही मिनट में खत्म हो रही जिंदगी, व्यक्ति नहीं कर पा रहे हैं खुद की जान की सुरक्षा

 




देश में अत्यधिक जनसंख्या के कारण पहले ही जिस स्थान पर देखो वहीं पर भीड़ दिख जाती है और आज की दुनिया में समय के अभाव के कारण कोई पीछे मुड़कर देखने को तैयार नहीं है। लोग अपनी एक छोटी सी गलती के कारण अपनी जिंदगी से हाथ धो बैठते हैं। इसी में एक गलती बिना हैलमेट लगाए गाड़ी चलाना भी हो सकती है क्योंकि मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में बिना हैलमेट पहने गाड़ी चलाने के कारण कई लोग अपनी जिंदगी से हाथ धो बैठे हैं। रोजाना लगभग 80% लोग बिना हैल्मेट लगाए अपनी जिंदगी दाव पर लगाकर घुमते है। मंदसौर जिले के लोक रोड पर बिल्कुल सुरक्षित नहीं है क्योंकि मंदसौर मुख्य मार्गों पर यातायात संचालित नहीं किया जा रहा है।



वाहन चालक ही अपनी मौत के जिम्मेदार है



यातायात इंजीनियरों का कहना है कि सड़क पर होने वाली दुर्घटना में लोगों की मौत हो जाती है और कई लोग घायल भी हो जाते हैं इनमें घायल होने वाले व्यक्तियों की ही गलती होती है। अगर दो पहिया वाहन चालकों की ओर देखा जाए तो एक ही गाड़ी पर पूरा परिवार सवार रहता है और एक भी हैलमेट नहीं पहनता है और छोटी सी चूक हो जाने के कारण एक ही बार में पूरा परिवार अपनी जिंदगी से हाथ धो बैठता है। इन लोगों में कुछ लोग जागरुक नहीं है और कुछ लोगों को हेलमेट पहनने में शर्म आती है और इसी कारण लोगों की मौत हो जाती है। यातायात विभाग ने सूचना दी है कि मंदसौर जिले में पिछले 2 सालों में लगभग 200 से अधिक लोगों की सड़क दुर्घटना में मौत हो चुकी है और इनमें से किसी ने भी हेलमेट नहीं पहन रखा था। इन सभी दुर्घटनाओं में सबसे अधिक दोपहिया वाहन वाले लोग थे। कुछ लोग एक्शन मारने के चक्कर में एक तो यातायात के नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं और दूसरा अपनी जान के साथ खेल रहे हैं।




अभी भी सड़क पर ऐसी लापरवाही नहीं बरते



सड़क दुर्घटना में हेलमेट नहीं पहनने से कोई अपने मां तो कोई अपने बेटे को खो देता है। इसलिए अगर कभी भी आप दो पहिया वाहन लेकर निकलते हैं तो अपने परिवार को ध्यान में रखकर हेलमेट पहन लीजिए। किसी से आपको यह फायदा होगा कि आपका पुलिस द्वारा पकड़े जाने पर जुर्माना नहीं लगेगा और दूसरा गलती से भी अगर आप गिर जाते हैं तो आपके सर पर चोट नहीं आएगी। लेकिन लोग मानने को तैयार नहीं है और जुर्माना दे देंगे लेकिन हेलमेट नहीं लगाएंगे। आपको हमेशा जब भी दुपहिया वाहन चलाएं हेलमेट अवश्य लगाना चाहिए चाहे आपको थोड़ी सी दूर ही क्यों ना जाना पड़े क्योंकि एक छोटी सी गलती आपकी जिंदगी ले सकती है। इसी के साथ साथ कभी भी वाहन चलाते समय मोबाइल पर बात नहीं करें और अगर आप कार या किसी भी चार पहिया वाहन में सफर कर रहे हैं तो सीट बेल्ट का अवश्य इस्तेमाल करें क्योंकि यही छोटी-छोटी बातें आप की जिंदगी बचा सकती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ