Neemuch की शर्मनाक घटना: एक आदिवासी को पिकअप ट्रक से बांधकर घसीटा, हुई दर्दनाक मौत

 

Neemuch Ki Dardnak Gatna



घटना मध्यप्रदेश के नीमच जिले की है जहां पर एक आदिवासी की मौत की दर्दनाक घटना सामने आई है। आजकल के जमाने में कुछ लोगों ने राजनीति को खरीद लिया है और खुद को बाहुबली समझते हैं और बिना सोचे समझे कुछ भी कर बैठते हैं क्योंकि उनको राजनीति और नियमों का कोई डर नहीं रहता। इसी कारण नीमच में एक आदिवासी की मौत हो गई जिसे डामर से बने रोड पर पिकअप से बांधकर काफी देर तक घसीटा गया। आदिवासी की हालत घसीटने के बाद काफी गंभीर हो गई और उसकी मौत हो गई। इंसानियत की हद पार कर देने वाला यह वीडियो सामने आने के बाद जब मामले का खुलासा हुआ तो पता चला कि कुछ दबंग लोगों ने आदिवासी के साथ इस घटना को अंजाम दिया था। घटना नीमच जिले के सिंगोली क्षेत्र की जहां पर कुछ दबंगों ने एक आदिवासी भक्ति कुमार नीमच सिंगोली मार्ग पर पिकअप से बांधकर घसीटा है और उसकी मौत हो गई है।



वीडियो सामने आने के बाद आरोपियों को गिरफ्तार किया गया 



नीमच एसपी सूरज कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि जब सोशल मीडिया पर यह वीडियो वायरल हुआ तो इस पर जांच पड़ताल की गई और उसके बाद पता चला कि दो दबंग लोगों ने सबसे पहले आदिवासी को अपनी मोटरसाइकिल से टक्कर मारी और उसके बाद उसे पकड़ लिया। आदिवासी के साथ दबंग लोगों ने मारपीट भी की और उसके बाद उसे पिकअप से बांधकर रोड पर घसीटा गया। घसीटने के बाद युवक की हालत गंभीर हो गई और उसे अस्पताल ले जाया गया लेकिन इलाज के दौरान आदिवासी की मौत हो गई। मामले में 8 लोगों का नाम सामने आया है जिसमें से दो मुख्य आरोपी है जिन्हें पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है। चित्र मल गुर्जर और महेंद्र गुर्जर को हिरासत में लिया गया है और पूछताछ की जा रही है। पिकअप ड्राइवर और सहायक को दी गिरफ्तार कर लिया गया है।




आदिवासी कन्हैयालाल को पिकअप से क्यों घसीटा गया




मामले का खुलासा होने के बाद पता चला कि चित्र मल गुर्जर और महेंद्र गुर्जर को आदिवासी कन्हैयालाल पर सिर्फ शंका हुई थी कि उसने चोरी की है। इसी शंका के कारण चित्र मल गुर्जर और महेंद्र गुर्जर ने आदिवासी की पिटाई की और अपनी दबंगई बचाने के लिए उन्होंने कन्हैयालाल को पिकअप से बांधा और रोड पर घसीटा। आरोपियों ने इंसानियत की सारी हदें पार कर दी और इलाज के दौरान कन्हैया लाल की मौत हो गई। ऐसे ही प्रदेश में कई लोग हैं जो खुद को दबंग समझते हैं और उन्हें प्रशासन और नियमों से डर नहीं लगता है।



कमलनाथ ने ट्वीट पर शिवराज सिंह पर तंज कसा है




घटना का वीडियो वायरल होने के बाद मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी ट्वीट पर घटना के बारे में बताते हुए कहा है कि मध्यप्रदेश के नीमच जिले के सिंगरौली क्षेत्र में एक आदिवासी के साथ काफी दर्दनिय घटना सामने आई है। कमलनाथ ने ट्विटर पर लिखा कि " यह मध्य प्रदेश में क्या हो रहा है...?


  " अब नीमच जिले के सिंगोली में कन्हैया लाल भील नाम के एक आदिवासी व्यक्ति के साथ बर्बरता की बेहद अमानवीय घटना सामने आई है, मृतक को चोरी की शंका पर बुरी तरह से पीटने के बाद उसे पिकअप से बांधकर निर्दयता से घसीटा गया, जिससे उसकी मौत हो गई.?



कमलनाथ की घटना बयां करते हुए कहा कि मध्य प्रदेश में अराजकता का माहौल बन गया है। हर कोई कानून अपने हाथ में ले रहा है और कानून का कोई डर नहीं रह गया है। ऐसे मामलों में सरकार नाम की चीज कहीं पर भी नजर नहीं आ रही है। ऐसा करने वालों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए और लोगों में कानून हाथ में लेने के प्रति भय होना चाहिए।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ