मंदसौर: कुछ घंटों की बारिश है फुला दी पंप हाउस की सांसे, 2 साल पहले पंप हाउस के लिए हुए थे प्रयास लेकिन नया अब तक नहीं बना

 



मंदसौर में अगर कुछ घंटे तेज बारिश हो जाती है तो आपको बाढ़ आने जैसा नजारा दिखने लगता है। इसका मुख्य कारण मंदसौर में लगे पंप हाउस  है जो थोड़ा पानी भरने पर बंद हो जाते हैं। शहर के धान मंडी में शिवना के समीप क्षेत्र में बना पंप हाउस काफी पुराना हो चुका है। 4 को बाढ़ से बचाने की ताकत अब इस पुराने पंप हाउस में नहीं रही है। वर्ष 2019 में जब मंदसौर में तेज बारिश हुई थी और शिवना नदी का पानी शहर में आ गया था तब प्रशासन द्वारा घोषणा की गई थी कि नया पंप हाउस बनाया जाएगा लेकिन 2 साल निकलने के बावजूद भी पंप हाउस नहीं बनाया गया है। नया पंप हाउस तो छोड़ो, पुराने पंप हाउस में भी कुछ नया कार्य नहीं किया गया है।



सांसद और विधायक ने अपनी अपनी निधि से राशि देने की बात कही थी



वर्ष 2019 में बाढ़ आने के दौरान सांसद सुधीर गुप्ता और विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया द्वारा अपनी निधि से नया पंप हाउस बनाने के लिए राशि देने की घोषणा की गई थी। प्रदेश सरकार के तत्कालीन मंत्री जयवर्धन सिंह ने भी इसके लिए घोषणा की थी लेकिन 2 साल गुजर जाने के बाद भी पंप हाउस नहीं बनाया गया है। अगर ऐसी स्थिति में मंदसौर जिले में बाढ़ आ जाती है तो शहर से पानी निकालने का सारा कार्य पुराने पंप हाउस के ऊपर सौंप दिया जाएगा जिसे वह कर नहीं पाएंगे। हालांकि थोड़े दिनों पहले नगर पालिका ने पंप हाउस को दुरुस्त किया था लेकिन एक ही बारिश में पंप हाउस की सांसें फूल गई और पंप हाउस पानी को निकालने में नाकाम रहा। पंप हाउस पानी नहीं निकल पाया और पंप हाउस में भी पानी भर गया। अगर यही स्थिति रही नया पंपहाउस नहीं बनाया गया तो तेज बारिश होने के दौरान फिर से मंदसौर में बाढ़ की स्थिति बन सकती है।




कई प्रयासों के बाद अब शुरू हो सकती है नया पंप हाउस बनाने की प्रक्रिया



पंप हाउस बनाने के लिए कई बार घोषणाएं हो चुकी है और कई अभियान भी हो चुके हैं। अब जाकर पंप हाउस को नया बनाने के लिए मानसून आने से कुछ ही दिन पहले प्रदेश सरकार ने मंदसौर शहर को बाढ़ से बचाने के लिए नया पंप हाउस बनाने के लिए 15 करोड़ रुपए की राशि प्रदान की है। यह राशि मिलने के बाद नया पंप हाउस बनने की प्रक्रिया जल्द ही शुरू हो सकती है। नए पंप हाउस उसी जगह बनाए जाएंगे जहां पर पुराने पंप हाउस बने हुए हैं। इसके लिए नगर पालिका ने टेंडर की प्रक्रिया शुरू कर दी है इसका फायदा अगले वर्ष मानसून में हीं मिल पाएगा। यह तभी संभव होगा जब नगरपालिका 1 साल में पंप हाउस बनाकर तैयार कर देगी हालांकि नगरपालिका 1 साल में नया पंप हाउस बनाने का दावा कर रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ