400 लोगों को अफगानिस्तान से भारत लाया गया: भारत आकर बोले तालिबान ने हमारा सब कुछ छीन लिया, Afghanistan

 


तालिबान ने Afghanistan  पर कब्जा कर लिया है और धीरे धीरे तालिबान Afghanistan की राजधानी काबुल की ओर बढ़ रहे हैं। तालिबान का खौफ इतना है कि अफगानिस्तान के राष्ट्रपति देश छोड़कर भाग गए हैं और यहीं डर अब दुनिया को सता रहा है। दुनिया से ज्यादा Afghanistan में रह रहे अल्पसंख्यकों को लग रहा है और काबुल से थोड़ी दूरी पर तालिबान के खिलाफ कुछ लोगों के एक समूह ने जंग का ऐलान भी कर दिया है। अफगानिस्तान के लोगों में से कुछ देश के लिए लड़ाई करना चाहते हैं तो प्रतिदिन बहुत सारे लोग देश छोड़ने के लिए एयरपोर्ट पर पहुंच रहे हैं।इसी बीच 400 लोगों को अफगानिस्तान से भारत लाया गया है जिसमें से देवीस अफगान लोग भी है जिनमें सीख और हिंदू दोनों प्रकार के लोग हैं।



200 लोग और भारत आने की गुहार लगा रहे हैं



कई दिनों की मशक्कत के बाद 400 लोगों को अफगानिस्तान से भारत लाया जा चुका है और अभी भी अफगानिस्तान में 200 लोग ऐसे हैं जो भारत आने की गुहार लगा रहे हैं लेकिन अफगानिस्तान पर कब्जा जमाए बैठा तालिबान उनको एयरपोर्ट तक भी नहीं पहुंचने दे रहा है। तीन विमानों के जरिए 400 लोगों को भारत में लाया गया है इन लोगों को अफगानिस्तान के काबुल,दोहा और दुशांबे से लाया गया है। इन 400 लोगों में से 329 लोग भारतीय हैं और उसके अलावा सभी अफगान के लोग हैं। इन्होंने भारत आकर काफी अच्छा महसूस किया। लोगों ने भारत पहुंचकर वहां की स्थिति बताई और उनको दिया गया दर्द बयां किया।




अब हम शायद ही काबुल वापस जा सकेंगे: अफगान नागरिक


400 लोगों में से कुछ नागरिक अफगानिस्तान के रहने वाले थे जिन्होंने भारत आकर उनका दर्द बताया है और यह भी कहा है कि वहां पर ऐसी स्थिति बन गई है कि अब हम शायद ही दोबारा काबुल जा सकते हैं। Afghanistan में एक भारतीय सांसद थे जिनका नाम नरेंद्र सिंह खालसा था उन्होंने भी भारत पहुंचकर जब Afghanistan की दास्तां सुनाई तो उनकी आंखों में आंसू आ गए। उन्होंने कहा कि जब हम देश छोड़ने के लिए एयरपोर्ट पर पहुंचे तो कुछ सिखों को तालिबान आतंकवादी उठा ले गए। ऐसे ही भारत पहुंचे सभी लोगों ने अपना अपना दर्द बयां किया और तालिबान के रहने वाले एक पति और पत्नी ने कहा कि हम अपने बच्चों का भविष्य तालिबान को नहीं सौंप सकते।



रोजाना एयरपोर्ट पर हजारों लोग देश छोड़ने के लिए पहुंच रहे हैं



अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के एयरपोर्ट पर ऐसी स्थिति बनी हुई है कि एयरपोर्ट के हर गेट पर लगभग छ:  हजार लोग खड़े हैं और देश छोड़ने की गुहार लगा रहे हैं। एयरपोर्ट के बाहर आतंकवादी संगठन तालिबान पेड़ को कंट्रोल कर रहा है और एयरपोर्ट के अंदर अमेरिकी सेना लोगों को संभाल रही है। अफगानिस्तान के लोग कुछ भी करके एयरपोर्ट के अंदर जाने का प्रयास कर रहे हैं और इसी को लेकर एयरपोर्ट पर भगदड़ भी हुई जिसमें 7 लोगों की मौत भी हो गई। भगदड़ के दौरान आतंकवादियों ने हवाई फायरिंग भी की। तालिबान ने सरेंडर कर चुके पुलिस चीफ को भी काफी बेहरमी से मारा और उसका वीडियो भी वायरल कर दिया। इसी खौफ के कारण कई लोग देश को छोड़ना चाहते हैं। इस स्थिति को देखकर लग रहा है कि जल्द ही गाने स्थान पर तालिबान कब्जा कर लेगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ