Mandsaur का छात्र राखी पर अपने घर आया था, बिदकी गाय ने ले ली जान, दूध निकालने बाड़े में गया था गाय ने सींग मारकर कुएं में गिरा दिया

 

Cow kill a student of mandsur




मंदसौर में एक गाय ने राखी मनाने अपने घर आए छात्र की जान ले ली। छात्र पीएससी अभ्यर्थी था जो राखी पर छुट्टी लेकर राखी मनाने के लिए अपने घर आया था लेकिन वह वापस नहीं जा पाया क्योंकि एक गाय ने उसकी जान ले ली। छुट्टियों के दौरान छात्र जब अपने बारे में दूध निकालने गया तो उसकी गाय ने सींग मार कर युवक को कुएं में गिरा दिया। शरीर पर चोट आने के कारण और युवक को तैरना भी नहीं आता था और उसके साथ बाड़े में कोई नहीं आया था जिसके कारण उसकी मौत हो गई। युवक रक्षाबंधन का त्यौहार मनाने के लिए अपने गांव आया था और उसका बाड़ा कुएं पर बना हुआ था तो वह अपने खेत पर बने बाड़े में दूध निकालने गया। इस दौरान उसकी गाय ने उसके सींग की मार दी और वह कुएं में गिर गया।



अकेला खेत पर गया था अभ्यर्थी



जब गाय ने उसके सींग की मारी तब खेत पर वह अकेला था। कुएं में गिरने के बाद वह बाहर निकलने के लिए संघर्ष करता रहा लेकिन लंबे समय तक कोई नहीं आया और वह पानी में डूब गया। देर शाम तक जब वह दूध लेकर घर नहीं पहुंचा तो उसके घर वाले तुरंत खेत पर गए और आवाज लगा लगाकर उसे ढुढने लगे जब वह काफी ढुंढने के बाद भी नहीं मिला तो परिजनों ने कुएं में देखा तो उसका शव नजर आया। उसके बाद परिजनों ने गांव वालों को सूचना दी और काफी मशक्कत के बाद शव को बाहर निकाला गया उसके बाद पुलिस को बुलाया गया। पुलिस ने शव की जांच करके बताया कि लड़के के शरीर पर गाय के सींग के निशान हैं।



लसूडिया का रहने वाला है अभ्यर्थी



मृतक का नाम अखिलेश रावल और उम्र 25 वर्ष है। अखिलेश रावल मंदसौर जिले के लसूडिया गांव में रहता है जो मंदसौर में रहकर PSC की तैयारी कर रहा था। मंदसौर में रहकर यह खुद भी पढ़ता था और बच्चों को भी पढ़ाया करता था। अपने घर में यह सबसे बड़ा था। रक्षाबंधन मनाने के लिए वापस घर आया था और जब खेत पर गाय का दूध निकालने गया तो गाय ने उसे मार दी और अपना संतुलन नहीं संभालने पर वह कुएं में जा गिरा। बालक को तैरना नहीं आता था इसलिए उसकी मौत हो गई।



घटना वाले दिन गाय को बांधा नहीं गया था



परिजनों ने जानकारी देते हुए बताया कि उनका बेटा लंबे समय से मंदसौर में रह रहा था और राखी के त्यौहार पर घर आया था। उनकी गाय किसी अनजान आदमी को देखकर भड़क जाती थी और जिस दिन अखिलेश की मौत हुई है उस दिन गाय को बांदा भी नहीं गया था और गाय को अखिलेश का चेहरा अजनबी लगा क्योंकि वह लंबे समय तक गाय के सामने नहीं गया था इसलिए उसके पास जाते ही गाय ने उसको सींग से मार दी। अखिलेश जब घर में कोई दूध निकालने वाला नहीं होता था तब दूध निकालने जाता था इसलिए आशंका है कि गाय अजनबी देखकर सींग हिला दिया। कुएं में गिरने पर उसे अधिक चोट तो नहीं लगी थी लेकिन अखिलेश को तैरना नहीं आता था जिससे लंबे समय तक कोई सहारा नहीं मिलने के कारण वह पानी में डूब गया और डूबने से उसकी मौत हो गई।




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ