पाकिस्तान के झंडे पर खड़े होकर की नारेबाजी, मंदसौर को देख बाकी शहरों ने भी अपनाया तरीका, नारे लगाने वालों को पाकिस्तान भेजने की मांग की गई

 

Bajrang dal Mandsaur 2021



पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वालों के खिलाफ मंदसौर में बजरंग दल द्वारा 2 घंटे तक शानदार प्रदर्शन किया गया जिसमें मंदसौर के मुख्य चौराहों पर पाकिस्तान के झंडे को रोड पर बनाया और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए। बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद, भाजपा सहित कई सामाजिक और धार्मिक संगठनों ने मिलकर देश विरोधी नारे लगाने वालों के खिलाफ मंदसौर में प्रदर्शन किया।शहर के गांधी चौराहा समेत अन्य चौराहों पर पाकिस्तान का झंडा बनाकर उस पर खड़ा रह कर नारेबाजी की गई। बजरंग दल ने प्रशासन को जिम्मेदार बताते हुए कहा कि प्रशासन देश विरोधियों के खिलाफ कार्यवाही ही नहीं करना चाह रहा है। बजरंग दल की मांग है कि पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वाले लोगों पर कड़ी कार्रवाई की जाए।




नारे लगाने वालों को देश से निकालकर पाकिस्तान भेजा जाए



मंदसौर में बुधवार को लगभग 11:00 बजे से विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल, भाजपा और अन्य सामाजिक और धार्मिक संगठनों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया था और केंद्र और राज्य सरकार के सामने मांग रखी कि भारत देश में रहकर पाकिस्तान के नारे लगाने वालों को देश से निकालकर पाकिस्तान भेज दिया जाए और देश विरोधी कार्य करने वालों पर कड़ी कार्रवाई करते हुए फांसी की सजा दी जाए। बजरंग दल का कहना है कि देश विरोधी कार्य करने वालों पर प्रशासन ढीला कानून अपनाता है और इसी कारण इनके हौसले बढ़ते जा रहे हैं इसलिए इन पर कड़ा कानून अपनाया जाए। इन पर कार्यवाही करना जरूरी है।



प्रदेश में बढ़ रही है इस प्रकार की हरकतें



उज्जैन में देश के खिलाफ नारे लगाना कोई पहली बार नहीं हुआ है प्रदेश के कई स्थानों पर पहले भी इस प्रकार की घटनाएं हो चुकी है लेकिन प्रशासन के ढीले रहने के कारण देशद्रोहियों के हौसले बढ़ते जा रहे हैं। बजरंग दल द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम ज्ञापन सौंपा गया और उज्जैन में हुई घटना के साथ साथ मंदसौर में पशुपतिनाथ मंदिर के सामने पहले त्रिशूल लगाने और फिर निकालने , खंडवा, धार व इंदौर में हुई घटनाओं को निंदनीय बताते हुए कार्यवाही की मांग की गई है। जिले में बढ़ रही गौ तस्करी को लेकर भी पुलिस द्वारा कोई कार्यवाही नहीं करने पर बजरंग दल द्वारा आक्रोश जताया गया। यह भी मांग की गई कि भारत विरोधी नागरिकता रखने वाली मानसिकता को भी हटाया जाए और उन पर कड़ी कार्रवाई की जाए।



मंदसौर का तरीका दूसरे शहरों में भी अपनाया गया




मंदसौर में भजन डाल ले देश विरोधी नारे लगाने वालों के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए एक नया तरीका अपनाया जिसमें बजरंग दल है शहर के मुख्य चौराहों पर पाकिस्तान का झंडा बनाया और बड़े बड़े अक्षरों में पाकिस्तान मुर्दाबाद लिखा उसके बाद उस पर खड़े रहकर नारेबाजी भी की गई। यह तरीका सबसे पहले मंदसौर शहर में अपनाया गया और उसके बाद प्रदेश के कई शहरों में इसी तरीके को दोहराया गया। नीमच जिले के सिंगरौली में भी शहर के चौराहों पर पाकिस्तान मुर्दाबाद लिखकर प्रदर्शन किया गया और नारेबाजी की गई। प्रशासन को अब ऐसे कानून बनाने की जरूरत है जिससे देश में रहकर कोई देश विरोधी कार्य नहीं कर सके। प्रशासन को एक ऐसा भय सभी के अंदर जगह देना चाहिए जिससे कोई देश विरोधी कदम उठाने से पहले 10 बार सोचे। अगर अभी भी सरकार ने ऐसा कोई नियम नहीं बनाया तो विरोधियों के हौसले बढ़ जाएंगे और आने वाले समय में भी ऐसी कई घटनाएं होगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ