Sarso ka bhav आज के सरसों का मंडी भाव मध्यप्रदेश गुजरात राजस्थान

Rajasthan Sarso ka Mandi Bhav ( सरसों का भाव आज का राजस्थान 2021)

Update : 07 August

मंडी का नामन्यूनतम भावअधिकतम भावमॉडल भाव
Baran703071507100
Dholpur700071007050
Goluwala670171307000
Lalsot(Mandabari)696173707270
Malpura715177007400
Nimbahera680071767000
Pratapgarh700070927046
Sawai Madhopur69206920
Surajgarh68506850
Suratgarh697869666945
Vijay Nagar(Gulabpura)681169006875

 


Sarso ka Bhav Madhya Pradesh 

Update : 07 August

मंडी का नामन्यूनतम भावअधिकतम भावमॉडल भाव
Ajaygarh680069006850
Betul585063506271
Kalapipal550063006200

 

Mandi Bhav Gujrat – Mustard (सरसों) Rate

Update : 07 August

मंडी का नामन्यूनतम भावअधिकतम भावमॉडल भाव
Becharaji640567556580
Deesa678568606825
Deesa(Bhildi)66256700
Dhanera660068656732
Jasdan550075007000
Mansa67006875
Panthawada676567956780
Rajkot525066255900
Rajula68506850
Siddhpur682568606842
Unjha680070106875
Vijapur620563446263

 

 

* सरसों की खेती कैसे होती है

बुवाई का समय- 

इस फसल का बुवाई का समय 15 सितंबर से 15 अक्टूबर तक रखना बहुत ही लाभदायक होता है

 

sarso ke bhav sarso ke bhav ke bhav jane free main madhya pradesh rajisthan gujrat[/caption]

 

बीज दर- 

इस फसल की बीज दर 3 से 4 किलो प्रति हेक्टयर रखना है तथा हाइब्रिड बीजो की बीज दर 1 किलो प्रति एक्टर रखना है और साथ ही यदि आप घर का बीज उपयोग में ला रहे हो तो आपको बीज उपचार अवश्य करना है और हाइब्रिड बीजों का उपयोग कर रहे हो तो उसमें इसकी आवश्यकता नहीं होती है

यदि इस फसल को आप कतार में बोलना चाहते हो तो कतार से कतार की दूरी 30 से 45 सेंटीमीटर होनी चाहिए और लाइन से लाइन की दूरी 10 से 15 सेंटीमीटर होनी चाहिए

 

सिंचाई का समय- 

सरसों की फसल में बुवाई के बाद दिए जाने वाले पानी के अलावा तीन और सिंचाई की आवश्यकता पड़ती है किंतु कुछ क्षेत्रों में तापमान में बदलाव के कारण सिंचाई की संख्या में वृद्धि या कमी हो सकती है और आपको सिंचाई भी तापमान की अनुकूल ही करनी है

इसमें आपको पहली सिंचाई फूलों के बनते समय और दूसरी सिंचाई फलियों के बनते समय तथा आखरी सिंचाई जब फलिया विकसित रूप में जाने वाली होती है उस समय करना है

 

विशेष बिंदु - 

कीटनाशक तथा खाद का उपयोग मिट्टी परीक्षण के बाद तथा रोगों की सही पहचान या किसी कृषि विशेषज्ञ जानकारी के बाद ही कीटनाशक व खाद का उपयोग करें 


 

mandsaur mandi bhav mandsaur mandi bhav jane hindi main[/caption]

Mandsaur Mandi Bhav 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ