सावन की दस्तक: लंबी खेंच के बाद बरसी अमृत की बूंदें, खिली किसानों की उम्मीदों की फसल, पानी-पानी हुआ पूरा जिला, दिनभर रिमझिम का रहा दौर जारी





मंदसौर जिले में मानसून में जोरदार दस्तक से फसलों पर मंडरा रहा संकट टल गया। काफी लंबे समय से जिले में बारिश नहीं हो रही थी तभी अचानक सावन दस्तक देते ही अच्छी बारिश कर दी जिससे फसलों को जीवनदान मिल गया और फसलें खुशी से झूम उठी। सावन में अच्छी बारिश की दस्तक होने के बाद किसानों के चेहरे पर भी रौनक आ गई। अब जल संकट भी जल स्त्रोतों में पानी आने से दूर हो जाएगा और काफी लंबे समय बाद आसमान से बारिश होने के बाद फसलों के लिए अमृत रूपी बारिश होने के बाद किसानों की उम्मीदें भी जग गई है। सावन की दस्तक के साथ ही बारिश की झड़ी लगी तो पूरा जिला पानी पानी होकर तरबतर हो गया। एक ही दिन की बारिश में कहीं गांव में तालाब भर दिए।



एक ही दिन में आ गए खाल उफान पर



खेत से लेकर सड़क शहर से लेकर गांव जलमग्न हो गए। रोड सहित जिले के अन्य क्षेत्रों में नालों से लेकर खाल भी उफान पर आ गए तो इस बारिश से खुले जल स्त्रोतों में भी पानी आने की शुरुआत हो रही है। जिले मे औसत रूप से 24 घंटे में 4 इंच से अधिक बारिश हो चुकी है तो शुक्रवार सुबह 8:00 बजे तक के आंकड़ों को देखा जाए तो औसत 2 इंच बारिश हुई है। हालांकि सुवासरा और शामगढ़ में सुबह तक कम बारिश हुई थी लेकिन मल्हारगढ़ मंदसौर और गरोठ में अच्छी बारिश हुई है। रात में जोरदार बारिश हुई तो शुक्रवार को दिनभर रिमझिम का दौर शाम तक जारी रहा। लगातार बारिश से उमस से परेशान हो रहे लोगों को भी राहत मिली।



बेजान फसलों को मिला जीवन, 24 घंटे में हुआ जिला पानी पानी



लंबे समय बाद 24 घंटे की बारिश के बाद जिले में खेतों में ऊर्जा रही और बिना जान की फसलों को इस बार इसके बारे में जीवनदान मिल गया है और बारिश होते ही फसलें फिर से खिल उठी है। यहां तक कि कई जगहों पर तो खेत ही तालाब में तब्दील हो गए और जलमग्न हो चुके खेतों से पानी की निकासी के इंतजाम करने में किसान लगे हुए हैं। इस बारिश से किसानों की चिंता दूर हो गई और जल संकट भी दूर हो जाएगा। गुरुवार की शाम से बारिश का क्रम शुरू हुआ। रिमझिम काकरान देर रात को जमाजम मैं बदला और मल्हारगढ़ और गरोठ क्षेत्र में रात में जोरदार बारिश हुई। रात के बाद सुबह भी तेज बारिश हुई। जिले में बारिश का दौर दिनभर रहा और 24 घंटे से अधिक समय में पानी ने पूरे जिले को जलमग्न कर दिया। मानसून के जिले में सक्रिय होने के बाद अब आने वाले दिनों में लगातार बारिश की संभावना मौसम विभाग जता रहा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ