मंदसौर: स्वागत में तार-तार हुई गाइडलाइन और सिंधिया समर्थकों ने किया शक्ति प्रदर्शन, भाजपा कार्यालय पर कार्यकर्ताओं को ट्रांसफर को लेकर नसीहत दे गए

 



शुक्रवार को सुबह 9:00 बजे आम लोगों से प्रभारी मंत्री के मिलने का कार्यक्रम रखा गया था। ऐसे में ज्ञापन और समस्या लिए अनेक लोग पहुंचे लेकिन मंत्री 10:00 बजे बाद आए। इसके बाद हम लोग तो पीछे धकेल दिए गए लेकिन भाजपाइयों ने स्वागत में समय निकाल दिया ‌ अत्यधिक भीड़ के बीच आम लोग हाथों में कागज लिए और मंत्री तक पहुंचने के लिए ही धक्के खाते खाते ही बाहर हो गए। इधर भाजपा की ओर कोरोना की गाइडलाइन को दरकिनार कर सिंधिया समर्थक प्रभारी मंत्री दत्ती गांव के स्वागत के जरिए शक्ति प्रदर्शन के साथ नारेबाजी करते हुए पूरे समय दिखे। विश्राम ग्रह पर विभिन्न संगठनों के साथ ही अन्य लोगों ने अपने समस्याओं को लेकर मांग पत्र सौंपा।



कांग्रेस ने भी सौंपा ज्ञापन



जिला भाजपा कार्यालय पर पहुंचे प्रभारी मंत्री दत्ती गांव का पदाधिकारियों ने स्वागत किया। यहां उन्होंने जिले के संगठन और जनप्रतिनिधियों के साथ समन्वय के साथ यहां के विकास को आगे बढ़ाने से लेकर संगठन को मजबूत बनाने का काम करेंगे। जिले में होने वाले ट्रांसफर को लेकर दो टूक करते हुए कहा कि ट्रांसफर में विशेष ध्यान रखें। एक बार होने के बाद फिर निरस्त का प्रस्ताव नहीं आए यह ध्यान रखें। विधायक व संगठन की अनुशंसा पर ट्रांसफर होगा। ट्रांसफर के पहले संगठन और यहां के जनप्रतिनिधि आपस में बैठकर मंथन कर ले ‌ ट्रांसफर को लेकर स्पष्ट नीति रखें। इससे पहले भी उन्होंने जितने भी लोग ट्रांसफर को लेकर उनसे मिलना पहुंचे उन सभी से संगठन व विधायक की अनुशंसा लाने की कहा।



महंगाई के मुद्दे पर टाल गए तो जनसंख्या नीति पर दिया अनमना जवाब



विश्राम ग्रह पर चर्चा के दौरान महंगाई के मुद्दे को वह टाल गए और कोरोना की बात कह गए। इसके बाद यूपी में जनसंख्या नीति लागू होने और उत्तर प्रदेश में जनसंख्या नियंत्रण के सवाल पर बेतुका जवाब दिया। उन्होंने कहा कि आपके घर की आपको देखना है और मेरे घर की मुझे। इसके अलावा प्राथमिकताओं में उन्होंने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर की तैयारी के अलावा अन्य जनप्रतिनिधियों के साथ मिलकर विकास को आगे बढ़ाने सहित अन्य मुद्दों पर काम किया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ