पेट्रोल डीजल के बाद अब घरेलू रसोई गैस सिलेंडर के दामों में लगी महंगाई की आग, सरकारी तेल कंपनियों ने घरेलू गैस सिलेंडर पर बढ़ाएं ₹25

 



पेट्रोल डीजल के दामों में लगातार हो रही वृद्धि शाहजहां जनता पहले से ही त्रस्त है वहीं अब सरकारी तेल कंपनियों ने गुरुवार को लोगों को एक और झटका दिया है दरअसल तीनों सरकारी तेल कंपनियों ने घरेलू गैस सिलेंडर और कमर्शियल गैस सिलेंडर के दामों में वृद्धि कर दी है ऐसे में घरेलू गैस सिलेंडर 25.50 रुपए महंगा हो गया है जबकि कमर्शियल सिलेंडर की कीमतों में करीब 84 रुपए का इजाफा किया गया है।इससे पहले तेल कंपनियों ने 1 जून को घरेलू गैस सिलेंडर की कीमतों मैं कोई बदलाव नहीं किया था। लाला की 19 किलोग्राम वाले कमर्शियल सिलेंडरों की कीमतों में ₹122की कटौती हुई थी।

एक तो पहले ही संकट है ऊपर से घरेलू संकट दे रही सरकार

सबसे पहले 1473.50 रूपए प्रति लीटर हो गई थी जो पहले 1595.50 रूपए थी। इससे पहले भी मई में ₹45 की दाम में कटौती हुई थी। उस वक्त भाव घटकर 1610 रूपए पर आ गए थे। जबकि घरेलू गैस सिलेंडर की कीमतें जैसे की तैसी थी। सरकारी तेल कंपनियों ने एलपीजी के दाम अप्रैल में घटाएं थे। उस समय यह ₹10 सस्ता हुआ था। मगर कच्चे तेल की कीमतों बढ़ाने की वजह से इस बार कंपनियों ने घरेलू और कमर्शियल दोनों गैस सिलेंडर के दाम में वृद्धि करने का निर्णय लिया है।

फरवरी में बढे हैं सबसे ज्यादा दाम

रसोई गैस की कीमतों में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी इस वर्ष देखने को मिली है। जनवरी को छोड़कर ज्यादातर महीनों में  घरेलू गैस की कीमतों में बढ़ोतरी की गई है। 4 फरवरी को तेल कंपनियों ने घरेलू रसोई गैस की कीमत में ₹25 का इजाफा किया था। इसके चलते गैस सिलेंडर 694 से लेकर 719 तक पहुंच गए। उसके बाद 15 फरवरी को कीमत में ₹50 की वृद्धि हो गई। 25 फरवरी को ₹25 की उछाल के साथ कीमत 794 पर पहुंच गई। 1 मार्च को गैस की कीमत में फिर से ₹25 की वृद्धि की गई। हालांकि अप्रैल में रसोई गैस के दाम ₹10 कट गए थे। कई योजनाओं का लाभ लोगों को नहीं मिल रहा है और इस बार सब्सिडी भी कम हो गई है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ