उत्साह ने लक्ष्य से तो बढ़ा दिया टीकाकरण, लेकिन पीछे रह गया कोरोना से बचाव मंत्र, टीको की संख्या से 4 गुना ज्यादा पहुंच रहे हैं लोग

 



मंदसौर जिले में टीकाकरण को लेकर लोगों में अपार उत्साह दिख रहा है। इसी कारण हर दिन जंक्शन लगवाने के लिए सेंटरों के बाहर भीड़ उमड़ रही है और भीड़ हर दिन वैक्सीनेशन को लक्ष्य को छोटा कर रही है। जितनी वैक्सिंग पहुंच रही है उससे 3 गुना अधिक लोग सेंटरों के बाहर लाइन लगाकर वैक्सीन लगवाने के लिए पहुंच रहे हैं। गुरुवार को 80 सेंटरों पर 16000 टीके लगाने का लक्ष्य था लेकिन शाम तक 17000 से अधिक टीके लगाए जा चुके थे। अब शुक्रवार को वैक्सीन आने के बाद वैक्सीन को लेकर निर्णय लिया जाएगा। शहर से लेकर ग्रामीण अंचल में एक्शन लगवाने के लिए सेंटर के बाहर लोगों की भीड़ के बीच सोशल डिस्टेंसिंग और कोविड प्रोटोकाल काफी छूटता हुआ नजर आ रहा है।



रात से कतार में लगने के बाद भी नहीं आ रहा नंबर



लोग वैक्सीन लगवाने के लिए रात से ही लाइन में लग रहे हैं। गुरुवार को जिले के 80 सेंटरों पर वैक्सीनेशन हुआ। बुधवार रात से ही सेंटर के बाहर लोगों की लाइन लगना शुरू हो गई। ग्रामीण अंचल में यह खासकर हो रहा है। कहीं आधार कार्ड रखकर लाइन लगाई जा रही है तो कहीं चप्पल रखकर लाइन लगाई जा रही है। तेज गर्मी और बारिश के बीच लोग टीका लगवाने के लिए कतारों में खड़े हैं। गुरुवार को इसके बाद भीड़ अधिक होने के कारण अनेक लोगों को वापस लौटना पड़ा।



लक्ष्य से अधिक हो रहा है टीकाकरण



जिले में टीकाकरण को लेकर लोगों में जबरदस्त उत्साह दिख रहा है। लक्ष्य से अधिक टीकाकरण हो रहा है। तीन लाख 85 हजार के करीब टीकाकरण हो चुका है। गुरुवार को भी लक्ष्य से अधिक टीके जिले में लगाए गए। कोरोना से सुरक्षा के लिए टीका लगाने के लिए असुरक्षा के बीच लोग सेंटरों पर पहुंच रहे हैं। सेंट्रल पर लगी लाइनों में लोग मास्क का उपयोग नहीं कर रहे हैं और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं। जिले में जितने भी वैक्सीन आ रही है वह एक ही दिन में लग रही है और उसके बावजूद भी कुछ लोगों को बिना वैक्सीन लगवाए जाना पड़ रहा है। महा अभियान से लेकर अब तक जिले में लगातार लक्ष्य से अधिक टीकाकरण हो रहा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ