खुशखबरी: कोरोना काल में पहली बार जिले में एक भी कोरोना मरीज नही, जिले से कोरोना की हुई छुट्टी, अव्यवस्थाओं के बीच 25000 लोगों को लगवाया टीका

 



मंदसौर जिले में 5 माह बाद अब जाकर कोरोना से छुट्टी मिली है। 5 महीनों बाद जिले में पहली बार एक भी कोरोना मरीज नही पाया गया है। फिलहाल जिले में एक भी एक्टिव केस नहीं है। गुरुवार को 307 जांच सैंपल की रिपोर्ट आई जिसमें से एक भी नया संक्रमित सामने नहीं आया है। वहीं 93 सेंटरों पर वैक्सीनेशन का काम किया गया है। हालांकि टीकाकरण अवस्थाओं में हुआ। भानपुरा सहित कई जगह ओटीपी के कारण आमजन को परेशानी का सामना करना पड़ा तो किसी जगह 200 डोज लगाना थे। तो वहां पर करीब 700 लोग टीका लगवाने के लिए पहुंच गए। ऐसे में आम लोगों को भारी समस्या का सामना करना पड़ा।


ओटीपी सिस्टम से आई लोगों को परेशानी


टीके लगवाने के पहले गुरुवार को जिला मुख्यालय से वैक्सीन लगवाने वालों द्वारा दिए गए मोबाइल नंबर पर ओटीपी आने की पद्धति का पहली बार प्रचलन प्रारंभ हुआ है। इस सिस्टम के कारण कई लोगों को परेशा दल दंवंवंऋव्वनी का सामना करना पड़ा क्योंकि कुछ लोग अपने साथ मोबाइल नहीं लाए थे और कुछ क्यों मोबाइल में नेटवर्क नहीं आ रहा था और बहुत सारे लोग ऐसे थे जो पढ़े-लिखे नहीं थे और इस सिस्टम से वाकिफ नहीं थे इसलिए उनको भी परेशान होना पड़ा। एक या दो सेंटर पर नहीं बल्कि कई सेंटर पर देखने को मिला।


पहली बार जिले में एक भी एक्टिव केस नहीं है


एक्टर मनोज पुष्प ने जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना काल में पहली बार जिले में एक भी एक्टिव केस नहीं है। अब तक जिले में 3 लाख 5 हजार 103 डोज लग चुके हैं। तीसरी लहर की संभावनाओं को देखते हुए जिले में जिला अस्पताल में आईसीयू वार्ड और नगरीय क्षेत्रों में ऑक्सीजन प्लांट अन्य तैयारियां चल रही है, हालांकि जिले में टीकाकरण करने में थोड़ी समस्या आ रही है कई लोगों को टीकाकरण सेंटरों से वापस आना पड़ रहा है। टीकाकरण सेंटरों पर लोगों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। प्रशासन 100% टीकाकरण करने की कोशिश कर रहा है लेकिन टिको की कमी होने के कारण लोग घबरा रहे हैं और अव्यवस्था फैला रहे हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts

चुन्नु लाला पहुंचा मंदसौर: उदयपुर पुलिस गैंगस्टर को लेकर पहुंची मंदसौर, कोर्ट ने दिया 6 दिन का रिमांड, उदयपुर और मंदसौर पुलिस की कड़ी सुरक्षा में पेशी
मानसून लाने के लिए लोग अपनाने हैं अजीब प्रथाएं, अविवाहित स्त्री को नग्न करके खेत जोताया जाता है, जानिए लोगों की यह प्रथाएं वाकई में काम करती हैं,कब और क्यो शुरू हुई यह प्रथाएं
राहत की किरण: मंदसौर में सामूहिक दुष्कर्म के 5 आरोपियों को मौत तक कैद की सजा, नाबालिग छात्रा को खेत में ले जाकर किया था दुष्कर्म
एक और गड़बड़ी: सिर्फ 6 माह 13 दिन में धंसा 28 करोड़ के शामगढ़ ओवरब्रिज का एप्रोच रोड, रास्ता हुआ बंद, सेतु विकास के इंजीनियर और निगरानी कंपनी की देखरेख में बना ब्रिज
मंदसौर: शहर के मुक्तिधाम में राख और अस्थियों के साथ हो रही छेड़छाड़, कुछ असामाजिक तत्वों ने शमशान को बना दिया है शराब का अड्डा