अहमदाबाद:पाटीदारों की देवी मां उमिया देवी मंदिर का हुआ शिलान्यास, विश्व में सबसे ऊंचा रहेगा यह मंदिर, 1000 करोड़ रुपए की लागत में बनेगा

 


गुजरात अहमदाबाद शहर के समीप विश्व का सबसे ऊंचा मंदिर बनाया जा रहा है। जो पाटीदारों की कुलदेवी मां उमिया माता का है। आज इस मंदिर का शिलान्यास किया गया है और इस अवसर पर पाटीदार चौक से रैली का आयोजन भी किया गया जिसमें लोगों ने बड़े उत्साह के साथ भाग लिया। आपको बता दें कि यह मंदिर विश्व में सबसे ऊंचा बनने वाला है और भारत का गौरव बनने वाला है। यह मंदिर बनने के बाद गुजरात ही नहीं पूरे देश का नाम विदेश में जाना जाएगा। मंदिर की डिजाइन भारतीय इतिहास के लेखों में लिखे गए अभिलेखों के अनुसार ही तैयार किया गया है। मंदिर में मंदिर के साथ-साथ सभी व्यवस्था भी रहेगी।


₹1000 करोड़ की लागत में बनाया जाएगा यह मंदिर


आपको बता दें कि यह उमिया माता मंदिर ₹1000 करोड़ में मनाया जा रहा है जोकि अहमदाबाद के पास 100 बीघा जमीन में पूरी सही प्रक्रिया के साथ बनाया जाएगा। इस मंदिर का नक्शा और डिजाइन जर्मन के आर्किटेक्ट और इंडिया के आर्किटेक्ट ने मिलकर बनाया है और यह मंदिर लगभग 4 या 5 साल में बनकर तैयार हो जाएगा। इस मंदिर की ऊंचाई 451 फीट रहेगी यानी कि लगभग 183 मीटर होगी। जो विश्व में किसी भी मंदिर की नहीं है। मंदिर में एक व्यू प्वाइंट भी बनाया गया है जिसकी ऊंचाई लगभग डेढ़ सौ फीट है यानी कि 82 मीटर जहां से हम पूरे अहमदाबाद का नजारा देख सकते हैं। मंदिर बन जाने के बाद विदेशों से भी यहां पर पर्यटक घूमने आएंगे जिससे विकास दर भी बढ़ेगी। मंदिर के साथ-साथ यहां पर स्वास्थ्य सुरक्षा भी रहेगी। अब सभी भक्तों को यह मंदिर बनने का इंतजार है।

एक टिप्पणी भेजें

1 टिप्पणियाँ

Popular Posts

मध्यप्रदेश न्यूज़: गुराडिया देदा में हुई रहस्यमय मौत, 2 फिट पानी के टैंक में गिरकर हुई उत्तरप्रदेश के 19 साल के युवक की मौत
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में एक साथ तीन लड़कियां तालाब में डूबी, मरने वाली में दो सगी बहनों और एक अन्य लड़की शामिल है
मध्यप्रदेश न्यूज़: बलि देने तलवार निकाली, सामने बैठे व्यक्ति को लगी; मौत, मन्नत पूरी होने पर आगर मालवा से आया था परिवार
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में गैस सिलेंडर हुआ ब्लास्ट, पूरा घर जलकर हुआ राख, 1 लाख 20 हजार रुपए की नकदी भी जली
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में साइंस की छात्रा ने की आत्महत्या, Physics में सप्लीमेंट्री आने के बाद छात्रा डिप्रेशन में थी