कॉमर्स ने उलझाया 12वीं के रिजल्ट का फार्मूला, दुविधा में मंत्री समूह, जानिए कब तक आ सकते हैं 12वीं के परिणाम, सरकार ने दिए निर्देश

 



कक्षा बारहवीं के हायर सेकेंडरी के परिणामों के रिजल्ट का फार्मूला एक बार फिर अटक गया है। इस बार रिजल्ट अटकने का कॉमर्स विषय है। दरअसल जिस हाई सेकेंडरी स्कूल परीक्षा परिणाम के आधार पर हायर सेकेंडरी स्कूल का परिणाम तैयार करने पर विचार चल रहा है। उसमें कॉमर्स विषय उपलब्ध ही नहीं है इसलिए अब मंत्री समूह दुविधा में आ गए हैं कि आखिर कॉमर्स के विद्यार्थियों को अंक कहां से दिए जाए। गठित मंत्री समूह इसी बात को लेकर अटका हुआ है। राकेश को लेकर कई सुझाव आ रहे हैं लेकिन वह कुछ मंत्रियों को समझ नहीं आ रहे हैं तो कुछ पूरे परिणाम सही प्रकार से नहीं निकाल पा रहे हैं इसलिए इस कारण को लेकर रिजल्ट अटका हुआ है।


अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लेंगे फैसला


इसको लेकर जब मंत्री समूह की बैठक हुई तो उसमें एक भी राय नहीं बनी तो अब समूह में शामिल मंत्रियों के सुझाव को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भेजे जा रहे हैं। मंत्री समूह इसका फैसला नहीं ले सके तो अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ही लेना पड़ेगा। 12वीं के परिणाम के फॉर्मूला को लेकर आज मंत्री समूह में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सामने प्रस्तुति देगा और आज 12वीं के परिणाम को लेकर फैसला लिया जाएगा। अब मुख्यमंत्री के पाले में गेंद आ चुकी है। सरकार का कहना है कि हम 31 जुलाई से पहले हाई स्कूल और हायर सेकेंडरी का परीक्षा परिणाम देने का प्रयास कर रहे हैं। इसलिए फार्मूला तय करने में अभी देरी नहीं होगी। 31 जुलाई तक रिजल्ट घोषित कर दिए जाएंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts

चुन्नु लाला पहुंचा मंदसौर: उदयपुर पुलिस गैंगस्टर को लेकर पहुंची मंदसौर, कोर्ट ने दिया 6 दिन का रिमांड, उदयपुर और मंदसौर पुलिस की कड़ी सुरक्षा में पेशी
मानसून लाने के लिए लोग अपनाने हैं अजीब प्रथाएं, अविवाहित स्त्री को नग्न करके खेत जोताया जाता है, जानिए लोगों की यह प्रथाएं वाकई में काम करती हैं,कब और क्यो शुरू हुई यह प्रथाएं
राहत की किरण: मंदसौर में सामूहिक दुष्कर्म के 5 आरोपियों को मौत तक कैद की सजा, नाबालिग छात्रा को खेत में ले जाकर किया था दुष्कर्म
एक और गड़बड़ी: सिर्फ 6 माह 13 दिन में धंसा 28 करोड़ के शामगढ़ ओवरब्रिज का एप्रोच रोड, रास्ता हुआ बंद, सेतु विकास के इंजीनियर और निगरानी कंपनी की देखरेख में बना ब्रिज
मंदसौर: शहर के मुक्तिधाम में राख और अस्थियों के साथ हो रही छेड़छाड़, कुछ असामाजिक तत्वों ने शमशान को बना दिया है शराब का अड्डा