कोरोना संक्रमण के दौरान बिजली कंपनियों ने 2.25 लाख उपभोक्ताओं को प्रदान की एक रुपए प्रति यूनिट में बिजली, जानिए आप कैसे उठा सकते हैं इस योजना का लाभ

 



कोरोना संक्रमण के बीच बिजली कंपनी ने पिछले महीने में मालवा निमाड़ में 3250000 उपभोक्ताओं को एक रुपए प्रति यूनिट की दर से बिजली प्रदान की है। यही नहीं जिन उपभोक्ताओं के घर में स्मार्ट मीटर लगे हुए हैं उन उपभोक्ताओं को भी उसी कीमत की दर से प्रदान किए गए हैं। इससे लोगों को पैसे देने में कठिनाई नहीं आई और उपभोक्ताओं ने फायदा भी उठाया है। दरअसल बिजली कंपनी डेढ़ सौ यूनिट की खपत पर उपभोक्ताओं को ₹1 प्रति यूनिट बिजली प्रदान करती है। 30 दिन में डेढ़ सौ से ज्यादा यूनिट उपयोग करने वाले उपभोक्ता योजना में पात्रता की श्रेणी में आते हैं और इन्हें पहले 100 यूनिट तक बिजली एक रुपए प्रति यूनिट में दी जाती है। जबकि शेष 50 यूनिट की कंपनी बिल बनाती है।

150 यूनिट से अधिक होने पर लगता है अतिरिक्त भार

बिजली कंपनी के एमडी अमित तोमर ने बताया कि शासन के आदेश अनुसार पात्र घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को एक रुपए यूनिट की दर से बिजली प्रदान की जा रही है। जिन उपभोक्ताओं के यहां स्मार्ट मीटर लगे हुए हैं उनको भी एक रुपए यूनिट के हिसाब से बिल दिए जाते हैं। इंदौर ,महू, रतलाम, उज्जैन , खरगोन आदि में कुल 135000 स्मार्ट मीटर उपयोग करने वाले उपभोक्ता है जिनमें से 66000 लोगों को ₹1 वाली योजना का लाभ मिला है। ऐसे उपभोक्ता जिंदगी 30 दिन में डेढ़ सौ से ज्यादा यूनिट हो जाती है वह इस योजना से बाहर निकल जाता है और इस योजना का लाभ नहीं ले पाता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ