मंदसौर: इसी सप्ताह शहर को मिलेगा चंबल का पानी, मिलेंगी शहर के लोगों को राहत,कार्य तेजी से हो रहा है



 गर्मी का मौसम आ गया है और शहर में फिर पेयजल का संकट बढ़ने लग गया है। करीब 8 साल बाद फिर तेलिया तालाब सूखने लगा है। इसका असर मई ही अभिनंदन संजीत नाका, गांधीनगर आदि के कुओं देखने लग गया है।


कल किस पर कहा जा रहा है कि चिंता की कोई बात नहीं जिला प्रशासन ने मार्च में चंबल का पानी लाने के लिए बात करी थी और अभी काम चल रहा है। अधिकारियों से बात करने पर पता चलता है कि इसी सप्ताह चंबल का पानी मंदसौर आ सकता है।

पेयजल का संकट शहरी नहीं पूरे जिले भर में पड़ रहा है, वर्तमान में नगर पालिका के पास रामघाट व काला भाटा डेम मिलाकर इतना पानी बचा है कि शहर में करीब डेढ़ महीने तक पानी की समस्या नहीं होगी। बता दें कि नगरपालिका पिछले 2 महीने से तेलिया तालाब के आस-पास के कुओं से पानी ले रही है जिससे करीब आधा शहर पानी की प्यास बुझा रहा है।अभी तो लिया तालाब सूखने लग गया है जिसका असर आसपास की कॉलोनियों गांधीनगर संजीत नाका के अभिनंदन कॉलोनी आदि के सरकारी कुॅओ पर पड़ रहा है।




करीब 8 साल बाद अप्रैल में ही सुगना लग गया है तोलिया तालाब।


इसी सप्ताह टेस्टिंग होगी व पानी भी आएगा।नगर पालिका ने शहर की पेयजल संकट को भापते हुए तीन चार महीने पहले से ही से पानी लाने का काम शुरू कर दिया है हालांकि पहले जो दावा किया था कि 31 मार्च तक आ जाएगा वह फेल हो गया है और अभी कोशिश जारी है कि पानी इसी हफ्ते में शहर को मिलने लगे। अधिकारी शहर को पानी देने की भरपूर कोशिश कर रहे हैं अधिकारियों के अनुसार हाउस लेवल की सेटिंग पूरी हो गई है, कनेक्शन का काम भी लगभग पूरा हो गया है‌।


मंदसौर: इसी सप्ताह शहर को मिलेगा चंबल का पानी, मिलेंगी शहर के लोगों को राहत,कार्य तेजी से हो रहा हैबाद शहर को चंबल का पानी मिलने लग जाएगा।


 मंदसौर कलेक्टर मनोज पुष्प से बातचीत में पता चला है कि, शहर को पानी जल्द ही मिलने लगेगा कुछ सामान की वजह से पानी मिलने में देर हो गई। अभी इंटकलवेल पंप सेटिंग का काम खत्म हो गया है।  इसी सप्ताह टेस्टिंग के साथ चंबल का पानी मंदसौर शहर मिलने लगेगा।



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ