उदयपुर पुलिस को मिली सफलता : 15 लाख रुपए का 661 किलो डोडा चूरा किया जब्त, पुलिस पर फायरिंग कर भागे तस्कर




उदयपुर की बेकरिया थाना पुलिस ने आज एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए अवैध रूप से परिवहन कर मारवाड़ ले जाई जा रही 661 किलो डोडा चूरा की बड़ी खेप को पकड़ने में कामयाबी हासिल की है। इस घटना के दौरान तस्करों के द्वारा पुलिस पर फायरिंग भी की गई और मौके से फरार होने में कामयाब हो गए। जिसके बाद से ही पुलिस तस्करों की तलाश में जुट चुकी है। बेकरिया थाना क्षेत्र अधिकारी शंकरलाल राव से बातचीत में पता चला है कि कि मुखबिर की सूचना पर बेकरिया थाना क्षेत्र पुलिस ने हाईवे पर नाकेबंदी करवाई। इस दौरान उदयपुर की तरफ से आ रही एक पिकअप वाहन को रोकने का प्रयास किया गया। तो कार सवार तस्करों द्वारा पुलिस पर फायरिंग कर दी। पुलिस ने भी हिम्मत दिखाते हुए तस्करों की गाड़ी का पीछा किया और करीब 5 किलोमीटर तक पीछा कर जवाबी  फायर भी किया। परंतु फिर मैं तस्कर भाग ही निकले 661 किलो की बड़ी मात्रा में डोडा चूरा पकड़ने में कामयाबी हासिल हुई।



तस्कर गाड़ी को वही रोककर पैदल जंगल में भाग निकले


 वहीं पुलिस द्वारा किए गए फायर के बाद तस्कर घबरा गए और कच्चे रास्ते पर गाड़ी उतार पैदल ही जंगलों में भाग निकले। इस दौरान पुलिसकर्मियों ने तस्करों को पकड़ने की कोशिश भी की लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। बाद में जब पुलिस ने गाड़ी की तलाशी ली तो उसमें करीब 661 किलो डोडा चूरा भरा हुआ मिला। जिसकी बाजार कीमत करीब 15 लाख रुपये बताई जा रही है। उदयपुर जिला पुलिस अधीक्षक डॉ राजीव पचार ने बताया कि मादक पदार्थों की तस्करी के खिलाफ उदयपुर पुलिस द्वारा ऑपरेशन क्लीन के तहत विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इसी अभियान के तहत बेकरिया थाना पुलिस ने बुधवार को इस कार्रवाई को अंजाम दिया है। जिसमें पुलिस ने बड़ी मात्रा में डोडा चूरा के साथ ही तस्करी में काम लिए जाने पिकअप वाहन को भी जब्त किया है। जिसके नंबरों के आधार पर अब पुलिस तस्करों की तलाश में जुटी है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts

चुन्नु लाला पहुंचा मंदसौर: उदयपुर पुलिस गैंगस्टर को लेकर पहुंची मंदसौर, कोर्ट ने दिया 6 दिन का रिमांड, उदयपुर और मंदसौर पुलिस की कड़ी सुरक्षा में पेशी
राहत की किरण: मंदसौर में सामूहिक दुष्कर्म के 5 आरोपियों को मौत तक कैद की सजा, नाबालिग छात्रा को खेत में ले जाकर किया था दुष्कर्म
एक और गड़बड़ी: सिर्फ 6 माह 13 दिन में धंसा 28 करोड़ के शामगढ़ ओवरब्रिज का एप्रोच रोड, रास्ता हुआ बंद, सेतु विकास के इंजीनियर और निगरानी कंपनी की देखरेख में बना ब्रिज
मंदसौर: पिपल्या मंडी थाना क्षेत्र में जहरीली शराब पीने से तीन लोगों की मौत, किराने की दुकान पर बेची जा रही थी जहरीली शराब, मौके पर पहुंचा प्रशासन
मंदसौर: शहर के मुक्तिधाम में राख और अस्थियों के साथ हो रही छेड़छाड़, कुछ असामाजिक तत्वों ने शमशान को बना दिया है शराब का अड्डा