मंदसौर के तालाब में डूबे ग्यारहवीं के 3 छात्र,होली खेलने के बाद तालाब मे तीन दोस्त नहाने के लिए गए थे, दो के शव मिले ,जबकि एक को बचा लिया गया।

 



शामगढ़ के पास जूनापानी तालाब में यह घटना हुई।शामगढ़ में होली का उत्सव मातम में तब्दील हो गया। शामगढ़ के नजदीक गांव जूनापानी के पास तालाब में दोस्त पानी में डूब गए।तीनों दोस्त 11वीं कक्षा में साथ ही पढ़ते थे तीनों में डूबे को, एक को तैराक ने बचा लिया , जबकि दो के शव मिले।जांच अधिकारी ने बताया।17 वर्षीय गोपाल, पिता श्यामसुंदर व्यास, 17 वर्षीय विशाल ,पिता अशोक बैरागी, 16 वर्षीय संस्कार पिता विनोद। तीनों सुबह होली खेलेने निकले थे। तीनों दोस्त दोपहर करीब 1:00 बजे शहर से 5 किलोमीटर दूर जूनापानी गांव के समीप तालाब में नहाने के लिए पहुंचे। आते समय गोपाल और विशाल  की डूबने से मौत हो गई।


संस्कार को शामगढ़ के तैराक रोशन पंजाबी ने बचा लिया। दोनों बालकों के शव भी निकाल लिए गए। मैं करीब 15 फीट पानी भरा था। शामगढ़।   तहसीलदार आर एल मुनिया ने बताया कि मृतकों के परिवारजनों को मुआवजे का प्रस्ताव बनाकर भेजा जाएगा ‌ पानी में डूबने से मौत पर चार चार लाख रुपए सहायता का प्रावधान है।


संस्कार ने होश में आने के बाद बताया गया है कि दोस्त डूब गए हैं।


तैराक रोशन पंजाबी ने बालक को डूबते हुए देख लिया था। जब उसने बालक को तालाब से निकाला तो वह बेहोश हो गया था। पता ले जाने के बाद उसे आधे घंटे भर में होश आ गया। ना होश में आने के बाद बताया कि उसके साथ उसके दो दोस्त और भी थे।जो उसके साथ ही डूबे थे। करीब 8 घंटे की मशक्कत के बाद दोनों शवों को बाहर निकाला गया। बताया जा रहा है कि दोनों ही परिवार के इकलौते लड़के थे । शाम को दोनों के शव का पीएम करने के बाद परिवार जनों को सौंप दिया गया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ