फरार महिला बंदी की तलाश में पुलिस ने गरोठ में मारा छापा,फिलहाल कोई सुराग नहीं




उज्जैन भैरवगढ़ स्थित सेंट्रल जेल मैं सितंबर महिने  से  धोखाधड़ी के मामले में बंद महिला सुनीता सोलंकी फरार हो गई है। जिसकी तलाश में पुलिस ने आज संभावित ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की है। इसी के चलते गरोठ में पुलिस के द्वारा उसकी बेटी के घर छापा मारा गया,परंतु पुलिस को इस दौरान कोई सफलता नहीं मिली। उस महिला को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था जिसके दौरान वह अस्पताल से भाग निकली।


महिला को अस्पताल क्यों लाया गया था


कल के दिन उस महिला को सीने में दर्द की शिकायत के चलते जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। जेल में देर रात होने के दौरान महिला मौके का फायदा उठाकर टॉयलेट में लगी खिड़की की जाली तोड़कर मौके से फरार हो गई। उसके बाद उसका अभी तक कोई पता नहीं चल रहा है। पुलिस जगह-जगह उसको तलाश रही है। महिला ने शायद सीने में दर्द होने का नाटक किया था ताकि अस्पताल में उसकी सिक्योरिटी नहीं हो और वह मौका देख कर भाग निकले।उसने जैसा सोचा था वही किया और महिला मौका देखकर अस्पताल से भाग निकली।


अस्पताल में महिला की सिक्योरिटी क्यों नहीं की गई


इस घटना के दौरान विवाद चल रहा है कि आखिर महिला की अस्पताल में निगरानी क्यों नहीं रखी गई।इसी मामले को लेकर जेल अधीक्षक अलका सोनकर ने जानकारी देते हुए बताया कि महिला की निगरानी के लिए प्रहरी तो लगाए गए थे। लेकिन उनकी लापरवाही के चलते हैं वह महिला मौका देख कर भाग निकली। इसलिए सुरक्षा के लिए लगे प्रहरी प्रेमलता कटारा एवं विष्णु लाल जी गडारा को लापरवाही के चलते सस्पेंड भी किया जा चुका है।


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां