आज फिर लगी पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आग, घरेलू गैस सिलेंडर पर भी 25 रुपए की की गई वृद्धि

 


पहले ही देश में लोग कोरोना काल से जूझ रहे हैं। जैसे तैसे लोग अपनी जिंदगी को लाइन पर ला रहे हैं। लेकिन पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दाम लोगों को फिर से झटका दे रहे हैं। देश की जनता पेट्रोलियम के बढ़ते दाम की वजह से ट्रस्त नजर आ रही है। पहले लोग कोरोना से डर रहे थे लेकिन अब तो कोरोना की वैक्सीन भी आ चुकी है। पर लोगों को पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों की वैक्सीन सरकार भी नहीं दे सकती। पेट्रोल डीजल के दाम आए दिन लगातार आसमान की ऊंचाई छूते जा रहे हैं।केंद्र सरकार का पेट्रोल डीजल के दाम पर से नियंत्रण पूरी तरह से हट गया है तेल कंपनियों ने आज गैस के दाम बढ़ा दिए हैं।



14.2 किलो का सिलेंडर अब हुआ 723 रुपये का,₹25 की हुई वृद्धि


पेट्रोल के दाम तो ऊंचाई छू ही रहे हैं लेकिन साथ साथ में गैस सिलेंडर की कीमत भी गरीबों की पहुंच से दूर होती जा रही है। अभी के समय में 14.2 किलो का सिलेंडर ₹723 का हो गया है। वहीं 19 किलो का वाणिज्यिक सिलेंडर ₹6 सस्ता हुआ है। ऐसे में पहले यहां 1550 रुपए का आता था तो अब दाम कम होने के बाद 1544 ही रह गए हैं। गैस डिस्ट्रीब्यूटर एसोसिएशन के महासचिव कार्तिकेय गौड़ ने इस बारे में जानकारी दी है। गैस सिलेंडर के दाम धीरे धीरे ऊंचाई छू रहे हैं। एक सिलेंडर में 10 माह में लगभग ₹200 तक की बढ़ोतरी हुई है। इधर पेट्रोल और डीजल के दाम हल्ला बोल रहे हैं और इधर गैस सिलेंडर के दाम पीछे हटने के लिए तैयार नहीं है। अभी गैस सिलेंडर में रुपए 25 की बढ़ोतरी की गई है।


पेट्रोल के दाम 100 का आंकड़ा छुने ही वाले हैं


पेट्रोल और डीजल के दाम सौ का आंकड़ा छूने के लिए आतुर हो रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत स्त्री रहने के बावजूद तेल कंपनियां लगातार पेट्रोल डीजल के दाम आंखें बंद करके बढ़ाती जा रही है।गरीबों की पहुंचे से तो पेट्रोल-डीजल मानो बाहर ही हो चुका है। पेट्रोल की कीमत का आंकड़ा सौ का आंकड़ा छूने को आतुर हो रहे हैं। आज पेट्रोल 38 पैसे और डीजल ₹35 की बढ़त के साथ शुरू हुआ है।पिछले 23 दिनों में जिस तरह से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि हो रही है उसी से ऐसा लग रहा है कि केंद्र सरकार का तेल कंपनियों पर से पूरी तरह नियंत्रण समाप्त हो चुका है।हालांकि राज्य सरकार ने 28 जनवरी को प्रदेश के उपभोक्ताओं को राहत दी और पेट्रोल डीजल पर वैट की दर 2 फ़ीसदी घटा दी गई है।इससे पेट्रोल के दाम ₹1 35 पैसे और डीजल के दाम एक रुपए 32 पैसे कम हुए हैं। केंद्र सरकार के स्तर पर देखा जाए तो इस अवधि में पिछले 23 दिन में पेट्रोल जहां ₹2 और 61 पैसे महंगा हुआ था वहीं डीजल की कीमतों में भी ₹2 और 65 पैसे की वृद्धि हुई है।आपको यह भी बता दे कि पहली बार ऐसा हुआ है कि पेट्रोल के दाम ₹94 प्रति लीटर पार हो गए हैं।राज्य सरकार की राहत के चलते पेट्रोल 92.89 के स्तर पर पहुंच गए हैं। वहीं डीजल के दाम ₹84 का मुकाम हासिल कर चुके हैं।



टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां